उत्तराखंड : कोतवाल को दी थी जान से मारने की धमकी, अब सिपाही मिली ये सजा

 

चम्पावत: चम्पावत में कोतवाल को जान से मारने की धमकी देने और गालियां देने वाले सिपाही को सस्पेंड कर दिया है। सिपाही के खिलाफ कोतवाल ने मुकदमा दर्ज कराया था। मामले की जांच लोहाघाट के कोतवाल मनीष खत्री को सौंपी गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी लोकेश्वर सिंह ने आरोपी पुलिस कर्मी को संस्पेंड कर दिया है।

मामला पंचेश्वर कोतवाली का है। जानकारी के अनुसार 28 दिसंबर की शाम को कोतवाली पंचेश्वर में सिपाहियों की गणना चल रही थी। इस दौरान उधमसिंह नगर के ग्राम अंजनियां चकरपुर का रहने वाला सिपाही महेश चंद नदारद था। कोतवाल अनुराग सिंह ने उसके फोन पर लोकेशन जाननी चाही तो मालूम पड़ा कि वह किमतोली बाजार में है। सिपाही ने कोतवाल को गाली देते हुए जान से मारने की धमकी दी। कोतवाल ने मामले की जानकारी एसपी को दी। एसपी के निर्देश पर पुलिस टीम ने आरोपित सिपाही को हिरासत में ले लिया और उसे मेडिकल के लिए अस्पताल ले जाया गया।

जांच के बाद मेडिकल रिपोर्ट में उसके नशे में होने की पुष्टि हुई। एसओ की तहरीर पर सिपाही के खिलाफ पंचेश्वर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच लोहाघाट के एसओ मनीष खत्री को सौंप दी। मेडिकल रिपोर्ट में नशे की पुष्टि होने पर एसपी ने सिपाही को निलंबित करने के आदेश दे दिए हैं। एसपी ने अब पूरे मामले की जांच चम्पावत के सीओ को सौंप दी है। बताया जा रहा है कि आरोपी सेना से रिटायरमेंट के बाद पुलिस में आया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here