उत्तराखंड: किन्नरों को मिली अलग पहचान, ये बना पहला जिला

 

देहरादून: किन्नरों को अब तक आधिकारिक रूप से पहचान पत्र नहीं दिया गया था। लेकिन, अब पहली बाद किन्नरों को पहचान दी गई है। पहचान देने वाला देहरादून राज्य का पहला जिला बन गया है। समाज कल्याण विभाग की ओर से जिले के दो किन्नरों को पहचान पत्र जारी किए गए हैं।

समाज कल्याण अधिकारी हेमलता पांडेय ने बताया कि जिलाधिकारी के प्रयासों से विक्रम उर्फ काजल थापा और सुनील उर्फ अदिति शर्मा को आईडी कार्ड जारी किया गया है। भारत सरकार ने ट्रांसजेंडर पर्सन्स एक्ट 2019 के क्रम में ट्रांसजेंडर को आईडी कार्ड जारी करने के उद्देश्य से विशेष पोर्टल बनाया है।

इस पर आईडी कार्ड के लिए किन्नर आवेदन कर सकते हैं।साथ ही अपनी इच्छा से नाम भी परिवर्तित कर सकते हैं। पहचान पत्र मिलने से किन्नर किसी भी बैंक से लोन लेकर बिजनेस भी कर सकते हैं और सरकारी योजना का लाभ भी उठा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here