उत्तराखंड: कमर तोड़ रही महंगाई, गांवों में आसमान छू रहे दाम

infaltion mahangai महंगाई

 

देहरादून: महंगाई लोगों की कमर तोड़ रही है। जहां पेट्रोल, डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं । वहीं, खाने-पीने की चीजें भी लगातार उछाल मार रही हैं, जिससे लोगों की रसोई का बजट गड़बड़ा गया है। पिछले 4 माह की रिपोर्ट को देखें तो उत्तराखंड में भी महंगाई में काफी तेजी दिखाई है।

पिछले चार महीने के दौरान उत्तराखंड में महंगाई ने छलांग मारी है। राज्य के शहरी क्षेत्रों की तुलना में गांवों में आटे-दाल और घी-तेल के भाव खूब चढ़े हैं। दिसंबर महीने में प्रदेश की महंगाई दर 5.88 फीसदी थी, जो मार्च में बढ़कर 6.66 फीसदी तक पहुंच गई है।

केंद्रीय सांख्यिकी व कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस(एनएसएसओ) की ताजा उपभोक्ता मूल्य सूचकांक रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तराखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में महंगाई दर अधिक है। मार्च माह में राज्य की कुल महंगाई दर 6.66 फीसदी आंकी गई। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में यह 6.86 प्रतिशत तक रही।

जबकि शहरी क्षेत्रों में 6.33 फीसदी महंगाई दर आंकी गई। दिसंबर महीने में राज्य में महंगाई दर 5.83 प्रतिशत थी, जो जनवरी में बढ़कर 6.38 प्रतिशत तक जा पहुंची थी। रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण पेट्रो उत्पादों में हुई बढ़ोतरी का असर वस्तुओं की कीमतों पर साफ दिखाई दे रहा है।

मार्च महीने की महंगाई दर के हिसाब से देश के अन्य राज्यों की तुलना में उत्तराखंड 14वें स्थान पर है। जनवरी महीने में वह देश में आठवें स्थान पर था। खाने का तेल और घी पर महंगाई की ज्यादा मार पड़ी है। इसके अलावा सब्जियों की कीमतों में उछाल आया है। मांस मछली, फल भी महंगे हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here