उत्तराखंडः कोविड कर्फ्यू में बेरोजगार हुए लोगों को सरकार देगी राहत, ये है योजना

रामनगर : उत्तराखंड से बड़ी खबर है। सरकार कोरोनाकाल में लाॅकडाउन के दौरान जिन लोगों का काम छूट गया, उनको आर्थिक मदद देने की तैयारी है। इसके लिए सरकार ने नगर निकायों को जिम्मेदारी दी है। राम नगर पालिका ने आज से लोगों से आवेदन लेने शुरू कर दिए हैं। माना जा रहा है कि जांच के बाद पात्र लोगों के खाते में एक से ढाई हजार रुपये डाली जागी। जरूरतमंद लोग नगर पालिका में अपने आवेदन जमा कर सकेंगे।

कोविड का संक्रमण कम करने के लिए राज्य सरकार द्वारा लॉकडाउन किया हुआ है। लॉकडाउन में मेडिकल स्टोर, भवन निर्माण, सब्जी, दूध दही बेचने वाले लोगों का ही कारोबार सीमित घंटे के लिए खुला हुआ है। जबकि कई ऐसे लोग हैं जिनके कारोबार कोविड की वजह से पूरी तरह बंद है। काम छूटने की वजह से लोग घरों में बैठे हैं, और आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। ऐसे लोगों के खाते में सरकार कुछ निश्चित धनराशि डालने जा रही है। इसके लिए सरकार द्वारा नगर पालिका को ऐसे लोगों के आवेदन भेजने की जिम्मेदारी सौंपी है।

लोगों से उनके नाम, पते, आधार कार्ड, काम छूटने की वजह, रोजगार की श्रेणी आदि की जानकारी ले रही है। नगर पालिका से आवेदन भेजे जाने के बाद सरकार चयनित लोगों के खाते में धनराशि भेजेगी। नगर पालिका के ईओ भरत त्रिपाठी ने बताया कि सोमवार को लोगों से आवेदन लिए जाएंगें। आवेदक को अपने काम के बारे में बताना होगा। मंगलवार को आवेदन ऑनलाइन भेज दिए जाएंगे।

शहरी क्षेत्र में चाय का ठेला लगाने वाले, छोले, चावल, चाट, भटूरे, मोची, चप्पल बेचने बाले, फेरी लगाने वाले, घरों मे झाडू पोछा करने वाली महिला पुरूष, शहरी क्षेत्र के होटलों में काम करने वाले लोगों, बाजार में काम करने वाले लोगों, रिसोर्ट से काम से छूटे व दैनिक उपयोग की वस्तु बेचने वाले लोग।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here