उत्तराखंड : पिछले 6 दिन से चर्चाओं का दौर जारी, आखिर कांग्रेस में चल क्या रहा है?

देहरादून : कांग्रेस में आखिर चल क्या रहा है। सत्ता धारी सरकार समेत विपक्षी पार्टियों, मीडिया औऱ प्रदेश की जनता के मन में एक ही सवाल है कि आखिर कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष का चयन और घोषणा क्यों नहीं कर पा रही है। कई दिनों से उत्तराखंड के विधायक औऱ वरिष्ठ नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। मीडिया समेत हर कोई इसका इंतजार कर रहा है कि कांग्रेस का नेता प्रतिपक्ष कौन होगा। कई मीडिया पोर्टल औऱ लोग तो इसका फैसला कर चुके हैं कि प्रीतम सिंह अगले नेता प्रतिपक्ष हैं और कांग्रेस का नया प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल हैं लेकिन कांग्रेस ने अभी तक इस पर चुप्पी साध रखी है। कांग्रेस को खबर है कि नहीं मालूम नहीं लेकिन कुछ पोर्टल और लोग इसका फैसला कर चुके हैं लेकिन बाकियों को कांग्रेस की घोषणा का इंतजार है। आज 6 दिन बीत चुके हैं लेकिन कांग्रेस ने नेता प्रतिपक्ष को लेकर कोई घोषणा नहीं की जिसके बाद सबके मन में सवाल उठ रहा है कि आखिर कांग्रेस में चल क्या रहा है। दूसरी ओर सीएम समेत मंत्री-विधायकों का दिल्ली दौरा…मन को और बेचैन कर रहा है। खबरें उड़ रही है कि उत्तराखंड में नेतृत्व में परिवर्तन हो सकता है। प्रश्नचिन्ह लगा कर हेड लाइन लगाई जा रही है कि क्या प्रदेश को नया सीएम मिलेगा।इस तरह की कई चर्चाएं सियासत के गलियारों में चल रही है। हालंकि इस पर पार्टी का कहना है कि ये सीएम का रुटीन दौरा है।

बता दें कि नेता प्रतिपक्ष बनने की रेस में सबसे आगे नाम करण माहरा और प्रीतम सिंह का सामने आ रहा है। लेकिन 6 दिन बाद दोनों नामों में से किसी के भी नाम पर कांग्रेस मुहर नहीं लगा पाई है। वहीं अगर प्रीतम सिंह नए नेता प्रतिपक्ष बने तो कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी पर किसे बैठाना है इस पर भी कांग्रेस हाईकमान को फैसला लेना है जिसकों लेकर संशय बना हुआ है। देखने वाली बात होगी कि आखिर कांग्रेस हाईकमान कब उत्तराखंड कांग्रेस के अगले नेता प्रतिपक्ष के नाम का ऐलान करेगी या ये संशय कुछ दिन ओऱ यूं ही बरकरार रहने वाला है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here