उत्तराखंड में ‘पीने वालों’ ने गटकी तीन हजार करोड़ से अधिक की शराब, लक्ष्य से अधिक कमाई

 

उत्तराखंड सरकार को शराब ने मालामाल कर रखा है। जी, ये सच है। उत्तराखंड में सरकार को शराब से खूब कमाई हो रही है। हालात ये है कि सरकार को लक्ष्य से अधिक राजस्व मिल रहा है।

हाल ही में उत्तराखंड विधानसभा के बजट सत्र में सरकार ने जो आंकड़े रखे हैं उसके मुताबिक बीते वित्तीय वर्ष में सरकार को शराब ने खूब कमाई कराई है। आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट बताती है कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में आबकारी विभाग ने 3260.35 करोड़ का राजस्व कमाया है। हालांकि लक्ष्य 3202 करोड़ था लेकिन ‘पीने वालों’ की मेहरबानी से सरकार को लक्ष्य से अधिक राजस्व मिल गया। रिपोर्ट बताती है कि ये राजस्व राज्य के कुल राजस्व का 19 फीसदी के करीब है।

बहुत दुखद खबर। ‘चैता की चैत्वाली’ के संगीतकार गुंजन डंगवाल का निधन, सड़क दुर्घटना में गई जान

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अंग्रेजी शराब से सबसे अधिक कमाई हुई है। अंग्रेजी शराब की दुकानों के लाईसेंस और शराब की बिक्री से 2309.68 करोड़ रुपए का राजस्व मिला है। वहीं देसी शराब से 578 करोड़ रुपए की कमाई हुई है। बीयर से होने वाली कमाई सबसे कम है। बीयर से सरकार को 261 करोड़ की कमाई हुई है। दिलचस्प ये भी है कि कोविड काल के दौरान बीते इसके पूर्व के वित्तीय वर्ष में भी सरकार को 3017 करोड़ रुपए की कमाई हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here