उत्तराखंड : DM ने कार्यालयों में एक साथ कराया औचक निरीक्षण, सामने आई ये तस्वीर, इतनों पर गिरी गाज


उत्तरकाशी: उत्तरकाशी डीएम मयूर दीक्षित ने कार्यालयों से गायब रहने वाले अधिकारी और कर्मचारियों को सुधारने करने के लिए खास प्लान बनाया। उन्होंने एक साथ उत्तरकाशी से लेकर बड़कोट और पुरोला तक के कई कार्यालयों में अधिकारियों से औचक निरीक्षण करवाया। इस दौरान जो तस्वीरें निकल कर सामने आई, वो बेहद हैरान करने वाली हैं। डीएम ने लापरवाह और कार्यालय से गायब अधिकारी/कर्मचारियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लेते हुए वेतन रोकने के आदेश जारी कर दिए हैं।

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने मुख्य विकास अधिकारी और एसडीएम को अपने अपने क्षेत्रों विभिन्न कार्यालयों का औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए। लोगों के कार्यों के प्रति लापरवाह अधिकारी और कर्मचारियों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने के निर्देश दिए हैं। डीएम के आदेश के बाद जिला मुख्यालय में मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार ने विकास भवन के विभागों का औचक निरीक्षण किया।

जिसमें सहायक निदेशक डेयरी और जिला युवा कल्याण अधिकारी अनुपस्थित पाए गए। दोनों अधिकारियों का एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए। स्वजल, आईसीडीएस, आलू एवं शाकभाजी, समाज कल्याण, पंचायती राज विभाग में सभी कार्मिक उपस्थित पाए गए। मुख्य विकास अधिकारी ने सभी विभागों की उपस्थित पंजिका की जांच भी की। कार्यालय की साफ-सफाई व्यवस्था को देखा, सूचना का अधिकार, सेवा का अधिकार, पत्रावलियों का विलम्बन की स्थिति, सीसीटीवी कैमरों की विद्यमानता आदि का गहनता के साथ निरीक्षण किया।

वहीं, एसडीएम भटवाड़ी देवेंद्र नेगी ने नगर पालिका परिषद बाड़ाहाट और मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। एसडीएम ने उपस्थिति पंजिका को चेक किया। जिसमें 25 नियमित कर्मचारियों में से 6 कार्मिक अनुपस्थित पाये गये। तथा 17 अनियमित कर्मचारियों में से 2 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए।

मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंर्तगत तैनात कुल 15 कार्मिकों में से 4 अनुपस्थित पाए गए। सभी अनुपस्थित कार्मिकों के वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। इसके अतिरिक्त सूचना का अधिकार से सम्बंधित पंजिका का अवलोकन किया गया जो अपडेट नही थी। लोक सूचना अधिकारी एवं सहायक लोक सूचना अधिकारी दोनों का स्पष्टीकरण तलब किया गया है।

इधर, बड़कोट में एसडीएम चतर सिंह चौहान ने नगर पालिका बड़कोट और जल संस्थान कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। उपस्थित पंजिका का अवलोकन किया। जिसमें में 1-1 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। दोनों के वेतन रोकने की संस्तुति की गई। एसडीएम पुरोला सोहन सैनी ने लोक निर्माण विभाग,पीएमजीएसवाई, खंड विकास अधिकारी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। लोक निर्माण विभाग में 17 कार्मिकों में से 2 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए।

ब्लॉक डेवलेपमेंट कार्यालय में 2 मनरेगा के जेई उत्तरकाशी होना बताया गया। जिनका वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। वहीं, पीएमजीएसवाई कार्यालय में एक कम्यूटर आपरेटर दो माह से अनुपस्थित होना पाया गया। जबकि एक और अन्य कार्मिक अनुपस्थित पाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here