उत्तराखंड: कोरोना फिर बढ़ाने लगा मुश्किलें, दून अस्पताल का नया आदेश जारी

देहरादून: कोरोना के आंकड़े लगातार बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के मामले रिकाॅर्ड स्तर पर हैं। लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए राजकीय दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल प्रशासन ने भी इसको लेकर फैसले लेने शुरू कर दिए हैं। सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना संक्रमण के खतरे को कम करने के लिए दून अस्पताल में ओपीडी पंजीकरण का समय साढ़े 3 घंटे कम कर दिया है। ओपीडी का समय अगले आदेश तक सुबह आठ से 10 बजे तक ही होगा।

दून अस्पताल में पहले ओपीडी पंजीकरण का समय सुबह आठ बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक था। रविवार को प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना की अध्यक्षता में बैठक हुई। एक बार फिर कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने पर कॉलेज प्रशासन ने इसे लेकर तैयारी शुरू कर दी है। प्राचार्य ने बताया कि भीड़ नियंत्रित करने के लिए सोमवार से ओपीडी पंजीकरण सिर्फ दो घंटे किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इमरजेंसी में केवल गंभीर मरीज ही देखे जाएंगे। गौरतलब है कि पांच विभागों में सामान्य मरीजों को भर्ती करने पर पहले ही रोक लगाई जा चुकी है। बैठक में डॉ. अनुराग अग्रवाल, डॉ. नारायण जीत, डॉ. निधि उनियाल, डॉ. शेखर पाल, डॉ. एमके पंत, डॉ. भावना पंत, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी महेंद्र भंडारी, जनसंपर्क अधिकारी सुधा कुकरेती आदि मौजूद रहे।

कॉलेज प्रशासन ने फ्लू ओपीडी को दोबारा से कंटेनर में शुरू करने का निर्णय लिया है। पिछले साल अप्रैल में यह व्यवस्था की गई थी। मामले कम होने पर इसे बंद कर दिया गया थो। कोरोना संदिग्ध और सामान्य मरीजों का अलग-अलग इलाज करने और संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए व्यवस्था फिर बहाल कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here