उत्तराखंड: बंजर जमीन पर खेल मैदान बनाने की मांग, युवाओं को मिलेगी सहूलियत


सितारगंज: नानकमत्ता के ग्राम पंचायत ड्योड़ी के ग्रामीणों ने ग्राम ड्योडी में बंजर पड़ी खाली जमीन पर खेलकूद का मैदान बनाने की मांग की है। ग्रामीणों ने इस संबंध में सितारगंज एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है। ग्रामीणों को कहना है कि गांव के बीच जमीन बंदर पड़ी है। उप तहसील नानकमत्ता के अंतर्गत राज्य सरकार की भूमि जो की दस्तावेजों में भी बंजर दर्ज है।

उनकी मांग की है कि आबादी के बीच में खाली पड़ी जमीन युवाओं का भविष्य संवारने के काम आ सकती है। क्षेत्र के युवाओं को सरकारी नौकरी व सेना में भर्ती की तैयारी करने में हो रही परेशानी हो रही है। आसपास कोई खेल का मैदान भी नहीं हैं। ऐसे में बंजर पड़ी भूमि पर खेलकूद का मैदान बनाया जा सकता है।

ग्रामीणों बताया कि ग्राम ड्योडी के युवाओं को गांव से लगभग 7 किलोमीटर दूर नानक सागर डैम किनारे तैयारी करने जाना पड़ता है। नानक सागर डैम किनारे तरह-तरह के नशे की प्रवृत्ति के लोग घूमते रहते हैं, जिस कारण क्षेत्र के युवा भयभीत रहते हैं। इसको देखते हुए ड्योड़ी के ग्रामीणों ने गांव में खाली पड़ी बंजर भूमि पर खेलकूद का मैदान बनाने की मांग करते हुए उप जिलाधिकारी सितारगंज को ज्ञापन सौंपा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here