उत्तराखंड : यहां मिला था युवक का शव, पुलिस ने किया खुलासा


विकासनगर: गुडरिच चाय बागान में हुई हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। 12 जून को चाय बागान में एक लाश मिली थी। पुलिस ने मामले में कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया है, जबकि एक ओरोपी अभी फरार चल रहा है। चाय बागान मे पड़े मृतक के शव की पहचान सौरव उर्फ सागर पुत्र राजकुमार निवासी लक्ष्मीपुर थाना सहसपुर जनपद देहरादून के रूप में हुई थी।

मामले के खुलासे के लिए पुलिस की एक टीम गठित की गई थी। गठित पुलिस टीम द्वारा अभियोग में संलिप्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए घटनास्थल का मौका मुआयना कर आसपास के सीसीटीवी कैमरे चेक किए गए। सर्विलांस की मदद ली गई। आसपास लोगों से पूछताछ की गई। सर्विलांस व आसपास के लोगों से पूछताछ कर अभियुक्त कंचन व और कमरेज का नाम सामने आया।

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद निवासी अभियुक्त कंचन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अभियुक्त द्वारा पूछताछ में बताया कि मूल रूप से पश्चिमी बंगाल का रहने वाला है। यहां अपने भाइयों, भाभी, और मां के साथ रह रहा था। कुछ समय पूर्व उसकी जान पहचान मृतक सौरव उर्फ सागर से हो गई थी। 12 जून को सागर उसके कमरे पर शराब का एक क्वार्टर लेकर आया जो उन दोनों नें साथ में बैठकर पी लिया।

उसके बाद मृतक सागर वापस अपने घर चला गया। रात करीब 10 बजे शराब के 2 क्वार्टर लेकर घर पर आया। तब मैं व मेरा भाई कवरेज, सागर की मोटर साइकिल पर बैठकर चाय बागान में आए। वहां पर हमने साथ में बैठकर शराब पी। सागर द्वारा उसके पारिवारिक महिला पर अनचाही टिप्पणी की, जिस बात पर गुस्सा होकर हम दोनों भाईयों नें सौरभ उर्फ सागर को लात-घूसों व मुक्कों से मार कर उसका गला दबाकर उसकी हत्या कर दी थी।

उसके बाद किसी के टॉर्च की रोशनी दिखाने पर हम दोनों वहां से भाग गये थे। अभियुक्त कंचन की निशानदेही पर उसके घर गुडरिच से घटना के समय पहने कपड़े, जिन पर मृतक सागर का खून लगा था, बरामद किये गये। अभियुक्त कंचन की निशानदेही पर घटना के दिन पहना ट्रैकसूट व अपर जिन पर मृतक के खून के निशान लगे हैं। कमरेज फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here