उत्तराखंड : बेटी ने मां को दिया धोखा, हड़प ली 5.33 लाख की FD

हरिद्वार : ज्वालापुर में एक एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। माता-पिता अपने जीवन की साड़ी कमाई बच्चों पर खर्च करते हैं, लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं, जो उनकी कमी और सम्पति पर नजर रखते हैं। रिटायर्ड भेलकर्मी की बेटी ने मां को धोखा देकर 5.33 लाख रुपये की एफडी हड़प ली। बेटी की शादी होने के बाद घर में आर्थिक तंगी आने पर परिवार को इसका पता चला। आरोप है कि शादी से पहले ही अपने होने वाली पति के साथ मिलकर महिला ने मां से धोखा किया। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

ज्वालापुर घास मंडी निवासी मिंदर ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि उनके पति बलजीत सिंह भेल से रिटायर्ड हैं। उनकी तीन बेटियां सपना, नीतू और गुड़िया उर्फ स्नेहा हैं। कोई बेटा न होने के चलते सपना अपनी शादी के बाद से ही उनके घर रहती है, जबकि घर में रुपये-पैसे का पूरा हिसाब दूसरी बेटी नीतू के हाथ में रहता है। वृद्धा का कहना है कि उन्होंने अपने बुढ़ापे के लिए सात लाख रुपये की एफडी कर दी थी। इसकी जानकारी नीतू को पहले से थी। उसे डर था कि एफडी का समय पूरा होने पर मां उसकी दोनों बहनों को भी रकम का हिस्सा देगी।

आरोप है कि नीतू का रिश्ता राजकुमार उर्फ राजन निवासीगण ग्राम रामपुर रणसुरा जिला सहारनपुर के साथ होने पर उसने अपने होने वाली पति के साथ मिलकर षड़यंत्र रचा। 26 सितंबर 2019 को वह वृद्धा को केवाईसी प्रक्रिया पूरी करने के बहाने बैंक ले गई। इसके बाद कागजों पर अंगूठा लगवाते हुए एफडी तुड़वाकर 5.33 लाख रुपये अपने बैंक खाते में ट्रांसफर करवा लिए और अपने पिता का विश्वास जीतने के लिए 2.13 लाख रुपये उनके बैंक खाते में ट्रांसफर करवा दिए।

आठ दिसंबर 2019 को शादी होकर नीतू अपने ससुराल चली गई। शादी के बाद घर की आर्थिक स्थिति खराब हो गई और कुछ दिन पहले उधारी चुकाने व आवश्यक कार्य के उन्होंने एफडी तुड़वाना चाहा तो पूरी कहानी का पता चला। आरोप है कि बेटी व उसका पति अब धमकियां दे रहे हैं। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी चंद्र चंद्राकर नैथानी ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here