उत्तराखंड: कोरोना पाॅजिटिव दूल्हे ने ऑनलाइन की शादी, निगेटिव आने के बाद ले गया दुल्हन

अलमोड़ा: कोरोना काल में कई तरह की घटनाएं देखने और सुनने को मिल रही हैं। कोरोना के कारण लोग इस कदर मजबूर हुए कि लोगों को अपनी शादियां तक टालनी पड़ी। ऐसा ही एक मामले अल्मोड़ा के जैंती में भी सामने आया था। नौ दिन पहले मूल रूप से अल्मोड़ के ही रहने वाले उमेश सिंह गोमती नगर लखनऊ में रहते हैं। उनकी शादी होने थी, लेकिन वो कोरोना पाॅजिटिव हो गए। परिजनों शादी का मुहूर्त नहीं टालने का फैसला लिया और तय किया कि शादी आॅनलाइन होगी। हुआ भी ऐसा ही। उमेश ने अपनी सपनों की राजकुमारी से आॅनलाइन शादी कर ली।

लखनऊ से बरात 24 अप्रैल को कांडे गांव आनी थी। दूल्हा उमेश औैर परिवार के अन्य लोग कोरोना पाॅजिटिव हो गए। सबकुछ तय होने के बाद दूल्हे ने ऑनलाइन शादी रचाई ली। लेकिन वैदिक रीति-रिवाज के अनुसार सात फेरे लेने तक कोई भी शादी पूरी नहीं मानी जाती है। उमेश चाहता तो कोर्ट से भी शादी कर सकता था।

लेकिन, उनको अपपने रीति-रिवाज और परंपराओं को निभाना था, इसलिए क्वांरटीन अवधि पूरी होने के बाद दूल्हा उमेश शनिवार शाम अपने कुछ रिश्तेदारों के साथ जैंती पहुंचा और यहां होटल में ठहरा। बारात लेकर गया और अपने सपनों की राजकुमारी के साथ साथ फेरे लिए। इस शादी को देखने के लिए गांव के कई लोग पहुंचे थे। शादी की चर्चा अल्मोड़ा से लखनऊ तक थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here