उत्तराखंड कांग्रेस ने इन 10 नए चेहरों पर जताया भरोसा, क्या लहरा पाएंगे जीत का परचम?

देहरादून : कांग्रेस ने बीते एक दिन पहले रात में अपने 53 प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर दिया है। इनमे वो प्रत्याशी शामिल हैं जो लंबे समय से अपने विधानसभा क्षेत्र में सक्रिय रहे और लोगों के बीच जाकर काम किया। इसी के साथ जातीय समीकरण भी देखा गया। कांग्रेस ने लोकप्रियता, सक्रियता का खासतौर पर ध्यान रखकर टिकट दिया। इस बार कांग्रेस ने 10 नए चेहरों को मौका दिया और मैदान मेें उतारा। इन 10 चेहरों में 1 युवा चेहरा भी शामिल है जिसका नाम है दीपक बिजल्वाण।

आपको बता दें कि कांग्रेस ने 17 प्रत्याशियों के नामों का ऐलान नहीं किया है। खबर है कि आज शाम तक दूसरी लिस्ट आ जाएगी। पिछले चुनाव में कांग्रेस 11 सीटों तक सिमट कर रह गई। कांग्रेस ने फीटबैक लिया और प्रत्याशियों की छवि के साथ उनकी सक्रियता, जीतने की क्षमता जैसे सभी पहलुओं पर विचार करने के बाद ही प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया।

ये चेहरे हैं शामिल

नए चेहरों में कुमाऊं मंडल से 6 और गढ़वाल मंडल के 4 प्रत्याशी शामिल हैं. सबसे पहले नाम है उत्तरकाशी के जिला पंचायत अध्यक्ष रहे दीपक बिजल्वाण का जिन्हें कांग्रेस ने यमुनोत्री से मैदान में उतारा है।

रुद्रप्रयाग सीट पर पिछली बार निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले जखोली के ब्लॉक प्रमुख प्रदीप थपलियाल पर कांग्रेस ने भरोसा जताया।

इसी के साथ कर्णप्रयाग सीट से प्रत्याशी बनाए गए मुकेश सिंह नेगी और बीएचईएल रानीपुर से प्रत्याशी राजवीर सिहं चौहान हैं।

कुमाऊं मंडल में गंगोलीहाट सीट से पिछले चुनाव में निर्दलीय लड़ चुके खजान चंद्र गुड्डू को पार्टी ने टिकट दिया।

बागेश्वर में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बेहद करीबी माने जाने वाले रंंजीत दास पर भरोसा जताया गया है।

पूर्व मंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष रहीं स्वर्गीय इंदिरा हृदयेश के पुत्र सुमित हृदयेश को हल्द्वानी सीट से पहली बार टिकट दिया है।

पूर्व सांसद केसी सिंह बाबा के पुत्र नरेंद्र चंद सिंह को काशीपुर से टिकट दिया गया है।

इसके अलावा रुद्रपुर से मीना शर्मा और सितारगंज से प्रत्याशी नवतेज पाल सिंह भी कांग्रेस के नए चेहरों में शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here