उत्तराखंड: कैंट प्रत्याशी सविता कपूर पर 5 करोड़ छात्रवृत्ति खाने का आरोप

देहरादून: कैंट विधानसभा सीट। यह सीट अब तक भाजपा की सेफ सीट मानी जाती रही है। लेकिन, इस बार समीकरण और हालात बदल गए हैं। इस सीट पर अब तक भाजपा के हरबंश कपूर ही चुनाव जीतते आ रहे थे, लेकिन चुनाव से पहले उनका निधन हो गया। भाजपा ने इस सीट पर उनकी पत्नी सविता कपूर को मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने इस सीट पर सूर्यकांत धस्मान को उतारा है। आम आदमी पार्टी से रविंद्र आनंद मैदान में हैं।

इस सीट पर भले ही मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच माना जा रहा हो, लेकिन यहां नया एंगल आम आदमी पार्टी लेकर आ रही है। आप ने चुनावी माहौल में छात्रवृत्ति घोटाले का मसला चर्चाओं में ला दिया है। इस बीच आप नेता रविंद्र आनंद ने करोड़रों के छात्रवृत्ति घोटाले का मुद्दा उछाल दिया है।

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा प्रत्याशी सविता कपूर जिस कॉलेज सोसाइटी की चेयरमैन रहीं, उस कॉलेज में पांच करोड़ की छात्रवृत्ति का घोटाला किया गया था। उनका यह भी आरोप है कि भाजपा की सरकार होने के कारण जहां दूसरे आरोपियों पर लगातार कार्रवाई हो रही है। वहीं, सविता कपूर या उनके पुत्र के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई।

छात्रवृत्ति घोटाले का आरोप सविता कपूर के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है। घोटाले का आरोप आप ने जरूर लगाया है, लेकिन इसका फायदा कांग्रेस भी हर हाल में उठाने का प्रयास कर रही है। यह मामला अब तेजी से चर्चा में आ रहा है। सरकार पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। देखना होगा कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी इस मौके को भुना पाते हैं या नहीं।

कांग्रेस ने इस सीट पर सूर्यकांत धस्माना को टिकट दिया। धस्माना पिछले लंबे समय से यहां सक्रिय हैं। हालांकि, कांग्रेस में भी टिकट के कई दावेदार थे, लेकिन धस्माना पर भरोसा कर पार्टी ने उनको मैदान में उतारा, तो दूसरे दावेदार भी शांत हो गए। हालांकि, कुछ लोगों ने विरोध जरूर जताया था, लेकिन फिलहाल धस्माना मजबूती से मोर्चा संभाले हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here