‘बजट धामी’ : सदन में पेश हुआ 63 हजार करोड़ से अधिक का बजट

prem chand agrawal uttarakhand budget live

  • 1216 पटवारियों को मिलेगी मोटरसाइकिल, बजट में प्रावधान है।
  • राजकोषीय घाटा 8503.70 करोड़ तक पहुंचा।
  • वित्तीय वर्ष 22-23 में ब्याज भुगतान के लिए 6017.85 करोड़ का प्रावधान।
  • वर्ष 22-23 में पेंशन मद में 6703.10 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • सीमांत इलाकों में पलायन रोकने के लिए शिक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के चंपावत परिसर की स्थापना का प्रावधान। इसके लिए वित्तीय वर्ष 22-23 में पांच करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • मनरेगा के तहत 22-23 में 297.84 करोड़ का प्रावधान।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के लिए वित्तीय वर्ष 22-23 में 105.41 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 22-23 में 205 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 22-23 में 112.38 करोड़ की धनराशि का प्रावधान किया गया है।
  • पात्र बुजुर्गों, निराश्रित विधवाओं, दिव्यांगों, आर्थिक रूप से कमजोर किसानों, परित्यक्त महिलाओं को पेंशन के लिए 22-23 में 1500 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
  • अंत्योदय कार्ड धारकों को एक साल में तीन एलपीजी सिलेंडर उपलब्ध कराने के लिए वित्तीय वर्ष 22-23 में 55.50 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
  • अटल आयुष्मान योजना के तहत 22-23 में सरकार ने 310 करोड़ का बजट रखा।
  • अटल उत्कृष्ट विद्यालयों के लिए 22-23 में 12.28 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • मेरी गांव मेरी सड़क योजना के लिए 22-23 में 13.48 करोड़ का प्रावधान।
  • चाय विकास योजना के लिए 22-23 में 18.40 करोड़ का प्रावधान।
  • गौसदनों के लिए सरकार ने 15 करोड़ की धनराशि का प्रावधान किया है।
  • मुख्यमंत्री सीमांत क्षेत्र विकास योजना के तहत वित्तीय वर्ष 22-23 के लिए 20 करोड़ा का प्रावधान
  • राज्य सरकार का बजट अनुमान 63774.55 करोड़ है।
  • चाय बागानों को और बेहतर बनाया जा रहा है।
  • जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा
  • खेती को लेकर सरकार का फोकस
  • उत्तराखंड के विधानसभा सत्र में धामी सरकार अपना पहला आम बजट पेश कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here