उत्तराखंड ब्रेकिंग : अधिकारियों की बड़ी गलती, किट बांट रहे CM पुष्कर धामी और फोटो लगी पूर्व सीएम की

लालकुआं : उत्तराखंड में धामी सरकार द्वारा बेटियों को महालक्ष्मी सुरक्षा कवच प्रदान किया जा रहा है। देहरादून से इसकी शुरुआत की गई। शनिवार को सीएम धामी ने देहरादून में कई महिलाओं को महालक्ष्मी सुरक्षा कवच किट प्रदान की। इस किट में प्रसव उपरांत माता और कन्या के शिशु पोषण के साथ कंबल औऱ कई अन्य चीजें शामिल है। लैंगिक असमानता को दूर करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना की शुरुआत की है। इसी अभियान के तहत आज लालकुआं में भी किट बांटे गए लेकिन सरकार की इस योजना पर पलीता लगाने का काम किया शासन के अधिकारियों ने। अधिकारियों ने एक बाऱ फिर से बहुत बड़ी गलती की जिससे एक बार फिर से सरकार की किरकिरी हुई। इस पर किसी का ध्यान गया हो या नहीं लेकिन खबर उत्तराखंड की नजर इस पर पड़ गई। आपको बता दें कि ये पहली गलती नहीं है जब अधिकारियों की गलती का खामियाज सरकार को भुगतना पड़ा हो बल्कि इससे पहले भी ऐसी गलती की गई थी।

किसी की नहीं पड़ी किट पर नजर, सिर्फ बांटने से मतलब

आपको बता दें कि बेटियों को बढ़ावा देने के किए उत्तराखंड सरकार ने इस योजना की शुरुआत की। उत्तराखंड में अब तक लगभग 17 हजार से अधिक लाभार्थियों को इस योजना के तहत लाभ मिल चुका है। आज लाल कुआं के दौलिया हल्दुचौर में राज्य सरकार की महालक्ष्मी योजना के तहत महिलाओं को किट बांटी गई। आंगनबाड़ी हल्दुचौर में आगनबाड़ी कार्यकत्री और ग्राम प्रधान हरीश बरखानी ने महालक्ष्मी योजना के तहत प्रसव उपरांत माताओं को यह किट बांटी लेकिन इस किट को देते समय किसी की नजर इस किट बैग में नहीं पड़ी। ना ही अधिकारियों का इस ओऱ ध्यान गया और ना ही सरकार के नुमाइंदों की सिर्फ बांटने से मतलब है। आंगनबाड़ी हल्दुचौर में आगनबाड़ी कार्यकत्री और ग्राम प्रधान हरीश बरखानी ने महालक्ष्मी योजना के तहत प्रसव उपरांत माताओं को यह किट बांटी लेकिन इस किट को देते समय किसी की नजर इस किट बैग में नहीं पड़ी। ना ही अधिकारियों का इस ओऱ ध्यान गया और ना ही सरकार के नुमाइंदों की सिर्फ बांटने से मतलब है।

सीएम पुष्कर सिंह धामी की फोटो नहीं बल्कि पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत की फोटो

आप देख सकते हैं कि शासन के अधिकारियों से कितनी बड़ी गलती हुई है। जो किट महिलाओं को बांटे गए हैं उसमे सीएम पुष्कर सिंह धामी की फोटो नहीं बल्कि पूर्व सीएम और वर्तमान सांसद तीरथ सिंह रावत की फोटो लगी है। जिससे सरकार की किरकिरी हो रही है। एक बार फिर से अधिकारियों की गलती का खामियाजा सरकार को भुगतना पड़ा है. बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब अधिकारियों से ऐसी गलती हुई हो और सरकार की किरकिरी हुई हो बल्कि इससे पहले भी ऐसी गलती की गई थी।

कोरोनिल किट बांटने के दौरान भी हुई थी ऐसी गलती

आपको याद होगा कोरोना काल में लोगों को सरकार द्वारा कोरोनिल किट बांटी गई थी जिसमे पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत की फोटो लगी थी। जब मामला मीडिया ने उठाया और खबरे प्रकाशित की तो अधिकारियों को होश आया और फिर पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत की फोटो के ऊपर उस समय के नए सीएम तीरथ सिंह की फोटो चिपकाई गई। जिससे सरकार की जमकर किरकिरी हुई थी। देखना होगा कि सीएम धामी इसमे क्या एक्शन लेते हैं और कैसे अधिकारी इस गलती को सुधारेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here