उत्तराखंड : दहेज के लिए एक और बेटी को मार डाला!

नैनीताल : दहेज प्रताड़ना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। आए दिन नए-नए मामले सामने आते रहते हैं। लाख दावों के बाद भी दहेज पर्था जैसा सामाजिक कोढ़ खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। दहेज के लिए मारपीट तो आम बात है। अब हत्या जैसी घटनाएं भी सामने आने लगी हैं। इस सप्ताह दो मामले सामने आ चुके हैं। पहला मामला देहरादून में सामने आया था। अब एक और मामला नैनीताल जिले में सामने आया है।

लालकुआं के हल्दूचौड़ में विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक के परिजनों ने पति और ससुराल वालों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। पहाड़पानी निवासी अनिल सिंह ने पुलिस को दी गई तहरीर में कहा है कि उसकी बहन पूजा की शादी 2019 को हल्दूचौड़ के गंगापुर निवासी कमलेश बिष्ट से हुई थी।

शादी के दौरान दहेज के तौर पर जेवर, सामान और पचास हजार रुपये नगद दिए गए थे। उनको आरोप है कि दामाद कमलेश दहेज से संतुष्ट नहीं था। वह समय-समय पर उनसे पैसों की डिमांड करता रहता था। इस बीच यह भी पता चला कि कमलेश नशे का आदी है। शादी के बाद पूजा का एक बेटा हुआ, जो कि डेढ़ साल का है।

परिजनों ने यह भी आरोप लगाया है कि बेटा होने के बाद दामाद कमलेश पूजा पर बेटे को अपने बड़े भाई को गोद देने का दबाव बना रहा था। कमलेश ने कहा कि क्योंकि उसके बड़े भाई की कोई औलाद नहीं है, इसलिए वह अपने बेटे को बड़े भाई को देना चाहता है। बेटे के एवज में बड़े भाई से उसका 15 लाख रुपये में सौदा तय हुआ था। इसी बात तो लेकर दोनों के बीच विवाद रहने लगा।

पूजा के भाई का कहना है कि उन्हें फोन कर बताया गया कि पूजा की तबीयत खराब है। वह सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती है। परिजन अस्पताल पहुंचे तो पता चला कि पूजा की मौत हो चुकी है और उसकी लाश मोर्चरी में रखी है। पूजा के परिजनों ने दामाद कमलेश पर पैसे के लालच में पूजा की हत्या करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पूजा के शरीर पर चोट के निशान पाए गए हैं। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here