अनोखी शादी : खाना पकाने के बर्तन में बैठकर शादी के मंडप तक पहुंचे दूल्हा-दुल्हन

उत्तराखंड सहित देश के कई राज्यों में बारिश से लोगों का हाल बेहाल है। जग-जगह सड़कों में पानी भरा हुआ है। ऐसा ही हाल है केरल का जहां भारी बारिश के कारण बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है। सड़कों पर पानी भरा हुआ है जिस वजह से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जगह-जगह पानी भरा होने के कारण वाहनों की आवाजाही में दिक्कत हो रही है। इस बीच शादी के लिए एक जोड़ा खाना पकाने के तांबे के एक पारंपरिक बर्तन में बैठकर शादी के मंडप तक पहुंचा। उनके घर से मंडप की दूरी 500 मीटर की थी, जिसे इन्होंने इस पारंपरिक बर्तन के जरिए ही पूरा किया

दुल्हन ऐश्वर्या और दूल्हा राहुल, दोनों एक ही इलाके के रहने वाले हैं. थकाझी के स्थानीय मंदिर में उनकी शादी होनी थी। सोमवार को इलाके में भारी बारिश के कारण जगह-जगह पर पानी भर गया। आमतौर पर केरल में दूल्हा और दुल्हन कार से एक मंदिर में आते हैं, लेकिन राहुल और ऐश्वर्या के लिए स्थिति काफी अलग थी। दोनों चावल पकाने वाले पारंपरिक तांबे के बर्तन में आए और मंदिर पहुंचे। यहां पहुंचकर दोनों ने शुभ मुहूर्त में शादी कर ली। इस दौरान काफी कम लोग ही मौजूद थे।

राहुल ने कहा कि हमें उस बर्तन में यात्रा करने से डर नहीं लगा। वहीं ऐश्वर्या ने कहा कि हम सभी खुश हैं कि शादी नियोजित शुभ समय पर हुई। ‘पोत’ यात्रा का आयोजन करने वाले एक रिश्तेदार ने कहा, ‘मंदिर के पास के कुछ इलाके लगभग जलमग्न हो गए थे लेकिन हम दूल्हा और दुल्हन दोनों को समय पर लाने में कामयाब रहे।’

बता दें कि केरल में भारी वर्षा और भूस्खलन हो रहा है, जिसमें मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। कोट्टयम के कोट्टिकल इलाके में सबसे ज्यादा लोग मारे गए हैं। मरने वालों में महिलाओं और बच्चों की संख्या सबसे ज्यादा है। इस दौरान दर्जनों लोग घायल भी हुए हैं जबकि करीब एक दर्जन लोग लापता हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में सैकड़ों की तादाद में लोग फंसे हुए हैं। सेना के तीनों अंगों के बचाव दल और एनडीआरएफ की टीमें बचाव और राहत अभियान में जुट गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here