केंद्रीय मंत्री का चमोली त्रासदी को लेकर बड़ा बयान, श्रमिकों के परिवार को 20-20 लाख रुपये…

चमोली जिले में त्रासदी के बाद लापता लोगों को खोजने की कोशिशें लगातार जारी हैं. इस हादसे के बाद लगभग 206 लोग लापता बताए जा रहे हैं वहीं अभीतक 31 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं. जानकारी मिली है कि लापता लोगों में यहां चल रहे कई प्रोजेक्ट पर काम कर रहे श्रमिक भी शामिल हैं. इसके अलावा आसपास के गावों के कुछ स्थानीय लोग भी लापता हुए हैं. वहीं, रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान अब तक 31 शवों को बरामद किया जा चुका है. मृतकों का आंकड़ा अभी और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है. दो लोगों की शिनाख्त हुई है वहीं 29 की शिनाख्त नहीं हो पाई है। बता दें कि एक कांस्टेबल औऱ कर्णप्रयाग में एक एएसआई का शव बरामद हुआ है।

वहीं दूसरी ओर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने त्रासदी को लेकर बड़ा बयान दिया है. आरके सिंह ने कहा कि एनटीपीसी की परियोजना में काम कर रहे 93 श्रमिक लापता हैं. हमें लगता है कि वे लोग बचे नहीं हैं. केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि 49 लोग अभी भी सुरंग में फंसे हुए हैं. मारे गए श्रमिकों के परिवार को 20-20 लाख रुपये देने को कहा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here