नशे के इंजेक्शन के साथ 2 गिरफ्तार, दून और हरिद्वार से किए जा रहे थे सप्लाई

देहरादून की रायवाला पुलिस को बीते दिन बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस द्वारा चलाए जा रहे नशे के खिलाफ अभियान के तहत बड़ी सफलता हासिल की है। पुलिस ने नशे के लिए भी उपयोग किए जाने वाले 453 इंजेक्शन के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया है। जानकारी मिली है कि युवक लग्जरी कार में देहरादून और हरिद्वार से इंजेक्शन लाकर रायवाला आस-पास क्षेत्र में सप्लाई करते थे।

रायवाला के थानाध्यक्ष भुवनचंद पुजारी ने बताया कि मादक पदार्थों की तस्करी व बिक्री की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत छिद्दरवाला चेक पोस्ट के पास चेकिंग की जा रही थी। इस दौरान देहरादून से नेपाली तिराहे की ओर एक स्विफ्ट कार आती दिखाई दी। जोकि अचानक ही देहरादून की ओर से फिर से मुडऩे लगी। शक होने पर पुलिल ने तत्परता दिखाते हुए तुरंत वाहन को घेर लिया। कार में दो युवक सवार थे। तलाशी लेने पर अगली सीट पर बैठे व्यक्ति के पास से दवा डाइजेपाम के 113 तथा ब्यूप्रेनोर्फिन के 100 इंजेक्शन बरामद हुए।

वहीं पिछली सीट पर बैठे व्यक्ति के पास से डाइजेपाम के 125 व ब्यूप्रेनोर्फिन के 115 इंजेक्शन मिले। जिनके रखने संबंधी कागजात कार सवार प्रस्तुत नहीं कर सके। आरोपितों की पहचान शाहनवाज (29) निवासी जनमपुर थाना सेलाकुई व मोहित आले (31) निवासी बहादुरपुर थाना सेलाकुई, देहरादून के रूप में हुई। दोनों को गिरफ्तार कर कार को सीज कर दिया गया। आरोपितों पर स्वापक औषधि एवं मन-प्रभावी पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया। आरोपित शाहनवाज खुद भी नशे का आदी है और नशा मुक्ति केंद्र में रह चुका है। थानाध्यक्ष के मुताबिक आरोपित इंजेक्शन को सेलाकुई तथा ज्वालापुर हरिद्वार आदि क्षेत्र से चोरी-छिपे लाते तथा कम उम्र के लड़कों को ऊंचे दाम पर बेचते थे। वह इन इंजेक्शन का उपयोग नशे के करते हैं। पुलिस टीम में उपनिरीक्षक प्रेम सिंह नेगी, उपनिरीक्षक ङ्क्षचतामणि मैठाणी, कांस्टेबल दिनेश महर, प्रदीप गिरि, कुलदीप, प्रीतम, संदीप शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here