ट्रेनिंग के बाद 102 मुख्य आरक्षियों को मिला प्रमोशन, तैनाती स्थलों पर किया रवाना

हरिद्वार : सशस्त्र प्रशिक्षण केंद्र में वरिष्ठता के आधार पर चयनित 102 मुख्य आरक्षी (सशस्त्र पुलिस) की ट्रेनिंग खत्म हुई। संस्था के उप प्रधानाचार्य सुरजीत सिंह पंवार ने बताया कि इस पदोन्नति प्रशिक्षण के लिए 112 आरक्षियों का चयन हुआ था जिसमे से 10 प्रशिक्षुओं का प्रशिक्षण पूर्ण नहीं होने के कारण रोका गया है. शेष कुल 102 प्रशिक्षुओं को सफलता पूर्वक प्रशिक्षण पूर्ण करने के उपरांत उनके मूल जनपदों और शाखाओं के लिए रवाना किया गया।

समापन के अवसर पर सन्त गिरजानंद महाराज ने प्रशिक्षुओं को विचारों के माध्यम से नई जिम्मेदारी का सरलता से निर्वहन करने के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए सभी प्रशिक्षुओं को शुभकामनाएं दी. और साथ ही ट्रेनिंग में प्रथम और सर्वांक सर्वोत्तम स्थान प्राप्त करने वाले प्रशिक्षु भारत भूषण और अंतः कक्ष में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रशिक्षु मनवर सिंह को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया।

पुलिस उपाधीक्षक मोहनलाल (प्रशिक्षण) ने बताया कि प्रशिक्षुओं को अरुण मोहन जोशी पुलिस उपमहानिरीक्षक एटीसी के निकट पर्यवेक्षण में दो माह का सफलता पूर्वक प्रशिक्षण पूर्ण कराया गया. प्रशिक्षण के दौरान वाह्य कक्ष प्रशिक्षण में पदादि, पुलिस प्रशिक्षण, फील्ड क्राफ्ट, शस्त्र प्रशिक्षण, शारीरिक प्रशिक्षण के साथ साथ आपदा, फायर सर्विस, मैप रीडिंग आदि तथा अन्तःकक्ष प्रशिक्षण में कानून, विविध अधिनियम, पुलिस प्रशाशन की कार्य प्रणाली , भीड़ नियंत्रण आदि का गहन प्रशिक्षण प्रदान किया गया। प्रशिक्षण संस्थान के कुशल प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया गया। समापन अवसर पर निरीक्षक संजय चौहान, प्रतिसार निरीक्षक नरेश जखमोला, एच0डी0आई0 संदीप नेगी, सु0सैन्य सहायक राजेन्द्र लखेरा, उप निरीक्षक प्रबीन कुमार, गुरप्रीत कौर, निशांत कुमार, सहित समस्त प्रशिक्षक स्टाफ आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here