हल्द्वानी से सुमित हृदयेश को टिकट, मां रह चुकी हैंं 3 बार विधायक, कहा- अधूरे सपने को पूरा करुंगा

कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है जिसमे 53 नाम शामिल हैं। वहीं बता दें कि कांग्रेस ने हल्द्वानी विधानसभा से दिवंगत नेता इंदिरा हृदयेश के बेटे सुमित हृदयेश को टिकट दिया है। टिकट मिलने के बाद आज सुमित का स्वराज आश्रम स्थित कांग्रेस कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया. इस मौके पर सुमित ने कहा की वो अपनी मां के अधूरे सपनों को पूरा करेंगे, वह सभी को साथ लेकर एकजुटता से चुनाव लड़ेंगे. साथ ही हल्द्वानी के हर क्षेत्र का विकास करने के साथ ही आईएसबीटी बनाना उनकी पहली प्राथमिकता होगा।

आपको बता दें कि उत्तराखंड की राजनीति में स्व. इंदिरा हृदयेश का बड़ा नाम था। उन्होंने नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी बखूबी निभाई।  वो एक महिला सत्ता पक्ष के बड़े बड़े नेताओं पर भारी थीं। लेकिन बीते साल उनका निधन हो गया। अब उनके बेटे सुमित हृदयेश हल्द्वानी सीट से चुनाव लड़ेंगे। 2002, 2012 और 2017 में तीन बार डा. इंदिरा यहां से विधायक रही थीं। जून में उनके निधन के बाद भी यहां उपचुनाव नहीं हुआ। सुमित अपने टिकट कोलेकर पहले से ही आश्वस्त थे।

अब सुमित पहली बार विधायक का चुनाव लडऩे जा रहे हैं। हालांकि, 2018 में हुए मेयर चुनाव में वह अपना दमदख दिखा चुके हैं। तब हल्द्वानी विधानसभा क्षेत्र में वह भाजपा के उम्मीदवार डा. जोगेंद्र रौतेला से आगे निकल गए थे। अब मां के अधूरे सपने को सुमित पूरा करेंगे और विरासत संभालेंगे।

आपको बता दें कि सुमित 2012 से 2018 तक वह मंडी सभापित रहे। पीसीसी मेंबर और एआइसीसी मेंबर रहते हुए भी उन्होंने संगठन के लिए काम किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here