उत्तराखंड में नहीं चलेगी निजी स्कूलों की मनमानी, शिक्षा मंत्री ने फीस एक्ट को लेकर दिया बड़ा बयान

 

देहरादून : उत्तराखंड में आए दिन निजी स्कूलों की मनमानी के मामले सामने आते रहे हैं। अभिभावकों ने इसकी शिकायत भी शासन से की जिसको गंभीरता से लिया गया और सरकार स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है। निजी कभी ट्यूशन फीस तो कभी ड्रेस,खेल-कूद के नाम पर अभिभावकों से फीस की डिमांड करते हैं। तो कभी मनचाही फीस बढ़ा देते हैं। सरकारी स्कूलों में सुविधाओं की कमी को देखते हुए अभिभावक अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में दाखिला दिलाते हैं जहां उनको लूटा जाता है लेकिन सरकार इस पर एक्शन लेने की तैयारी में है।

निजी स्कूलों की मनमानी पर रोक लगाई जा सके इसके लिए सरकार फीस एक्ट लाने जा रही है। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने फीस एक्ट को लेकर बड़ा बयान दिया है। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा फीस एक्ट इस प्रदेश का वह संक्लप है। आम अभिभावकों को किसी भी कीमत पर ठगने नहीं दिया जाएगा। इस एक्ट के पीछे जो सरकार की भावना है वह किसी को फायदा पहुंचाना, किसी को नुकसान पहुंचाना इस उद्देश्य से ऊपर उठ कर हम काम कर रहे हैं।शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि अगर कोई स्कूल बच्चों को सुविधा देता है तो वो फीस ले सकता है।

आगे शिक्षा मंत्री ने कहा कि हम उसको नहीं रोकेंगे जो स्कूल अभिभावकों और बच्चों सुविधा नहीं दे सकता वो फीस नहीं ले सकता है। इस प्रकार की समस्याओं के समाधान के लिए फीस एक्ट बनाया जाएगा और उसमें जो टेक्निकल कमिया थी वो लगभग खत्म कर दी गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here