उत्तराखंड की उभरती खिलाड़ी ने की आत्महत्या, हार गई थी पुलिस के साथ हुआ मैच

हल्द्वानी : उत्तराखंड के लिए बुरी खबर है। बता दें कि एक उभरती खिलाड़ी ने आत्महत्या कर ली है। खिलाड़ी का आत्महत्या का ये कदम उसके परिजनों औऱ राज्यों के अन्य खिलाड़ियों को गहरा घाव दे गया। जिसने भविष्य़ में राज्य का नाम रोशन करना था आखिर उस खिलाड़ी ने ऐसा कदम क्यों उठाया, इस सवाल हर कोई जानना चाहता है।

उभरती खिलाड़ी ने की आत्महत्या

आपको बता दें कि एमए की छात्रा और उभरती बॉक्सिंग खिलाड़ी ने जहर गटक कर खुदकुशी कर ली। जानकारी मिली है कि हेमा हल्द्वानी में मामा के घर रहती थी और एमबीपीजी कॉलेज से पढ़ाई कर रही थी। निजी अस्पताल में उपचार के दौरान उसने दम तोड दिया और।सूचना पाकर मौके पर पहुंची काठगोदाम पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और शव को परिजनों को सौंपा। फिलहाल खिलाड़ी ने खुदकुशी क्यों कि इसकी जानकारी नहीं है। पुलिस जांच कर रही है।

हार गई थी उत्तराखंड पुलिस के खिलाड़ी के साथ हुआ मैच

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतका मूल रूप से बागेश्वर के नाचनी कपकोट की रहने वाली थी जो कि सिर्फ 20 साल की उम्र में बुलंदियों को छू रही थी। मृतका हेमलता दानू पुत्री कृपाल सिंह हल्द्वानी के छड़ायल में अपने मामा के साथ रहती थी और एमबीपीजी कालेज में एमए सेकेंड में थी और वो एक बेहतरीन बॉक्सिंग भी थी। वो कई मेडल जीत चुकी थी। 10 सितंबर को हेमा ने राज्य स्तरीय बाक्सिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था। जो की उत्तराखंड पुलिस की टीम के साथ हुआ था. इसमे हेमलता हार गई थी। इसके बाद हेमा घर गई और 11 सितंबर की देर शाम हेमा ने जहर गटक लिया।
हेमा जीत चुकी है रजत पदक
मिली जानकारी के अनुसार हेमा ने द्वितीय यूथ नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था। बालिका वर्ग के 57 किग्रा भारवर्ग में हेमा को हरियाणा की शिवानी ने तीन राउंड तक चले मुकाबले में पराजित किया।

एसओ काठगोदाम विमल मिश्रा ने बताया कि रात 8 बजे करीब हेमा के परिजन उसे उपचार के लिए नैनीताल रोड स्थित निजी चिकित्सालय में लेकर पहुंचे जहां रविवार रात 2.30 बजे उसकी मौत हो गई। सोमवार सुबह पुलिस ने शव का पंचायतनामा किया। फिलहाल आत्महत्या की वजह का पता नहीं चल सका। पुलिस की जांच जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here