बढ़े सीएनजी के दाम, ओला-उबर के ड्राइवर AC चलाने के लिए पैसे मांग रहे ज़्यादा

नई दिल्ली:  पेट्रोल-डीजल के दाम आए दिन बढ़ रहे हैं. सिलेंडर के दाम भी आसमान छू रहे हैं। गैस और पेट्रोल डीजल के साथ सीएनजी के दाम भी आसमान छू रहे हैं. आज सीएनजी में प्रति किलो 2.5 रुपये की बढ़ोतरी हो गई है. पिछले 3 महीनों में प्रति किलो सीएनजी दाम लगभग 15 रुपये बढ़ चुके हैं. जिसकी वजह से ओला और उबर के ड्राइवर AC चलाने के लिए ज़्यादा पैसे मांग रहे हैं.

कैब ड्राइवरों का कहना होता है कि अगर AC चलाना है तो प्रति किलोमीटर 2 रुपये किराया ज़्यादा देना होगा. कैब वालों का कहना है कि सीएनजी का किराया तो रोज़ बढ़ रहा है. लेकिन उन्हें ओला या उबर से पैसा बढ़कर नहीं मिलता है, और AC चलाने में गाड़ी का औसत कम हो जाता है. चालकों का कहना है कि वो महंगाई से परेशान हैं. कोई मुनाफा नहीं हो रहा है। चालकों का कहना है कि सवारी को बता देते हैं तो लोग लड़ने को तैयार हो जाते हैं. लेकिन अगर हम कह देते हैं कि AC चलाने का एक्स्ट्रा पैसा दो या फिर दूसरी राइड बुक कर लो.
आपको बका दें कि ज्यादातर ओला या उबर ड्राइवर राइड के दौरान CNG बचाने के चक्कर में AC चलाने के पक्ष में नहीं होते हैं. कुछ ड्राइवरों ने बताया कि हम लोग 10 अप्रैल को हड़ताल पर जाने की तैयारी कर रहे हैं. बता दें कि पिछले एक साल में सीएनजी में प्रति किलो लगभग 23 रुपये बढ़ चुके हैं. अप्रैल 2021 में ₹43.40 Kg मिलने वाली सीएनजी अप्रैल 2022 में ₹66.61 Kg हो चुकी है. यानी एक साल में 23 रुपये 21 पैसे किलो बढ़ चुकी है, जबकि एक महीने में ही CNG की कीमत ₹9.60 Kg बढ़ी है. वहीं, तेल और सीएनजी के बढ़ रहे दामों पर केंद्र सरकार विदेशी बाजार की बात कर पल्ला झाड़ कर निकल जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here