उत्तराखंड: अस्पताल में भर्ती पत्नी को पुलिस सिपाही ने घोंपा चाकू, फिर यहां किया सरेंडर

ऋषिकेश: पुलिस सिपाही ने पहले पत्नी को बुरी तरह पीटा। उसके परिजनों ने जब उसे अस्पताल में भर्ती कराया तो वो वहां भी पहुंच गया और अपनी पत्नी के गले पर चाकू से हमला कर दिया। हमले में पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गई। इसके बाद वह खुद पास की कोतवाली पहुंच गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार तो कर लिया लेकिन पूरा घटनाक्रम कई सवाल खड़े कर गया।

आरोपी सिपाही हरिद्वार जिले के पुलिस लाइन में तैनात है। आरोपित के ससुर की तहरीर पर पुलिस ने उसके खिलाफ प्राणघातक हमला करने का मुकदमा दर्ज किया है। तलाई डोबरा पोस्ट मराल नीलकंठ यमकेश्वर पौड़ी गढ़वाल निवासी दिनेश चाकू लेकर राजकीय चिकित्सालय पहुंचा। यहां ट्रामा सेंटर के वार्ड में उसकी 30 वर्षीय पत्नी अनीता भर्ती है। बुधवार शाम उसने पीट कर पत्नी को घायल कर दिया था।

उसके बाद स्वजन ने उसे भर्ती कराया था। दिनेश ने वार्ड में घुसकर अनीता के गले पर चाकू से वार किए, जिसमें वह लहूलुहान हो गई। अनीता के चिल्लाने पर चिकित्सा कर्मी मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक दिनेश वह भाग खड़ा हुआ सीधे समीप स्थित ऋषिकेश कोतवाली पहुंचा। उसके हाथ में खून से सना चाकू था। उसने पुलिस को बताया कि वह अस्पताल में पत्नी को मार कर आया है। इस पर पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया और अस्पताल पहुंचकर पत्नी का हाल जाना। उसके गले पर चाकू के गहरे घाव थे। चिकित्सकों ने उसका तत्काल आपरेशन किया। अब उसकी हालात खतरे से बाहर बताई जा रही है।

पुलिस ने बताया कि दिनेश अपनी पत्नी पर शक करता है। इसी बात को लेकर उसने बुधवार को पत्नी अनीता की पिटाई की थी। अनीता के पिता तोता राम ने इस घटना के बाद दामाद दिनेश के खिलाफ लक्ष्मण झूला थाने में तहरीर दी थी। थाना प्रभारी निरीक्षक संतोष सिंह कुंवर ने बताया कि उसकी तलाश में संभावित ठिकानों पर बुधवार रात छापे मारे गए थे लेेकिन, वह हाथ नहीं आया। बताया गया है कि आरोपित सिपाही हरिद्वार जिले में तैनात है और एक मई से वह ड्यूटी से नदारद चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here