रामनगर : कोसी नदी में मछली मारने गई थी बच्ची, 3 दिन बाद शव बरामद

रामनगर के ढिकुली गाँव मे बुधवार की शाम कोसी नदी में बहने के बाद एक मासूम बालिका लापता हो गई थी। इस बच्ची के लापता होने के बाद पुलिस व एसडीआरएफ के जवानों द्वारा लगातार कोसी नदी में रेसक्यू अभियान चलाया जा रहा था। लेकिन बच्ची का कुछ पता नहीं चल पाया था लेकिन आज बच्ची का शव बरामद किया गया है।

आपको बता दें कि ढिकुली निवासी इस्लामुद्दीन की 6 साल की बेटी आलिया गांव को ही कुछ बच्चों के साथ घर के समीप स्थित कोसी नदी में मछली मारने गई थी। इसी बीच अचानक उसका पैर फिसलने से वह नदी में पानी के तेज बहाव में बह गई। सूचना मिलने के बाद परिजनों व पुलिस ने काफी खोजबीन की लेकिन इस बालिका का कोई पता नहीं चल पाया.

शुक्रवार की सुबह ग्राम पुछड़ी क्षेत्र में स्थित कोसी नदी में झाड़ियों के समीप शव अटका पड़े होने की सूचना ग्रामीणों द्वारा पुलिस को दी गई जिसके बाद कोतवाली पुलिस के साथ दमकल विभाग के कर्मचारी व एसडीआरएफ के जवान मौके पर पहुंचे और उन्होंने नदी से शव निकालने के लिए ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू अभियान शुरू किया. अभियान के दौरान शव बरामद होने पर जिसकी शिनाख्त मौके पर मौजूद इस्लामुद्दीन ने अपनी पुत्री आलित के रूप में की है. घटना के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

तो वहीं दूसरी तरफ प्रसिद्ध हनुमान धाम के पीछे कोसी नदी में एक शव दिखने से हड़कंप मच गया। मौके पर रामनगर पुलिस पहुंची। नदी के दूसरी ओर शव होने के कारण sdrf की टीम भी साथ गई. अत्यधिक पानी होने के कारण शव निकालने में परेशानी हुई। उपनिरीक्षक नरेंद्र कुमार ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा सूचना दी गयी कि कोसी नदी में पानी के दूसरी ओर एक शव है.

जिसकी सूचना मिलते ही वो दलबल के साथ मौके पर पहुंचे. साथ ही पानी का बहाव ज्यादा होने के कारण एसडीआरएफ को भी लगाया गया है. कोतवाल ने बताया कि हनुमान धाम कोसी नदी पर जो शव बरामद हुआ है उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here