हरदा-बलूनी के बदले सुर, सोशल मीडिया की जंग वहीं खत्म, दोनों ने एक दूसरे को कहा ‘थैंक्यू’

देहरादून : कांग्रेस के हरीश रावत व भाजपा के अनिल बलूनी में पिछले दिनों तलवारें खिंच गई थी। दोनों ने सोशल मीडिया के जरिए एक दूसरे पर जमकर वार किया था लेकिन अब दोनों नेताओं के सुर बदले बदले नजर आ रहे हैं। दोनों एक दूसरे की तारीफ करते नहीं थक रहे। दोनों की जंग सोशल मीडिया से शुरु हुई और सोशल मीडिया पर ही खत्म हो गई है।

हरीश रावत ने इसलिए कहा बलूनी को शुक्रिया

बता दें कि भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी और राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी की ओर से अल्मोड़ा के चाय बागानों का मुद्दा संसद में उठाए जाने पर पूर्व सीएम और कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने बलूनी की तारीफ की है। वहीं बलूनी ने भी रावत का शुक्रिया अदा किया है। हरीश रावत ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा  कि संसद में प्रश्न उठाना विकास का एक कारगर हथियार है। मैंने 80 के दशक में अल्मोड़ा संसदीय क्षेत्र के लिए अपने इस अस्त्र का उपयोग करते हुए बहुत कुछ हासिल किया।

अनिल बलूनी ने लिखा-साधुवाद आदरणीय रावत जी

वहीं सांसद अनिल बलूनी ने कहा कि हर सकारात्मक राजनीतिक संवाद का स्वागत किया जाना चाहिए जो दलीय सीमाओं के बाहर आमजन की पैरवी करता हो। हमारे देश के खूबसूरत लोकतंत्र में ही ऐसे दुर्लभ दृश्य दिख सकते हैं जब तमाम विरोधाभासों और मतभेदों के बाद भी खुले मंच से साकारात्मक विषय पर एक दूसरे की प्रशंसा, प्रोत्साहन और मनोबलवृद्धि की जाती है, की जानी चाहिये। साधुवाद आदरणीय रावत जी।May be an image of 2 people and textMay be an image of 1 person, standing and text that says "चाय के विस्तार के लिए क्या कुछ केंद्र की सरकार करेगी और वो बात श्री Anil Baluni जी के प्रश्न से आई। एक नौजवान सांसद, उत्तराखंड के लिये किस तरीके से हम केंद्रीय धनराशि प्राप्त कर सकते हैं, उस दिशा में कार्यरत हैं| सैद्धांतिक गंभीर मतभेदों के बावजूद भी मैं, वो ऐसा करते रहें इसकी कामना करता हूंड और यह कामना मैंने उनको टेलीफोन करके भी जाहिर की, उन तक पहुंचाई है| #uttarakhand"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here