उत्तराखंड की ऐसी विधानसभा सीट जहां उक्रांद ने 2 बार लहराया जीत का परचम, कांग्रेस-भाजपा बराबर

उत्तरकाशी : 14 तारीख को प्रदेश की जनता उम्मीदवारों की किस्मत को मतदान पेटी में बंद करेगी। और 10 मार्च को ऐलान होगा की जनता ने किसे चुना है। लेकिन इससे पहले आज बात करते हैं यमुनोत्री विधानसभा सीट की। ये एक ऐसी सीट है जहां कांग्रेस भाजपा समेक उक्रांद का परचम लहराया. कांग्रेस भाजपा ने एक-एक बार तो वहीं उक्रांद ने दो बार जीत का परचम लहराया। जी हां हम बात करे रहे हैं यमुनोत्री विधानसभा सीट की जहां अभी भाजपा का राज है। युमनोत्री से केदार सिंह रावत विधायक हैं।

कांग्रेस भाजपा ने एक एक बार लहराया जीत का परचम, उक्रांद ने दो बार हासिल की सीट

आपको बता दें कि यमुनोत्री विधानसभा क्षेत्र में चिन्यालीसौड़, नौगांव ब्लाक और डुंडा ब्लॉक स्थित ब्रह्मखाल क्षेत्र के गांव शामिल हैं। इस सीट में कांग्रेस भाजपा ने एक एक बार तो वहीं उत्तराखंड क्रांति दल ने दो बार जीत का परचम लहराया। परिसीमन से पहले यमुनोत्री सीट उत्तरकाशी विधानसभा क्षेत्र का हिस्सा हुआ करती थी। इस सीट का काफी महत्व है। यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के बाद चारधाम की शुरुआत हो जाती है। इसका महत्व काफी बढ़ जाता है. बता दें कि  यमुनोत्री धाम को गंगा की सहायक नदी यमुना का उद्गम स्थल भी माना जाता है। इन्हीं विशेषताओं की वजह से इस सीट को वीआइपी श्रेणी में रखा जाता है।

इन पार्टियों के प्रत्याशियों ने किया कब्जा

आपको बता दें कि यमुनोत्री सीट में 2002 में उक्रांद का कब्जा रहा तो वहीं 2007 में कांग्रेस ने जीत हासिल की। 2012 में फिर से उक्रांद ने जीत का झंडा गाड़ा तो वहीं 2017 में भाजपा ने जीत हासिल की। यहां के लोगों ने किसी पार्टी को नहीं बल्कि व्यक्तित्व को देखकर ही वोट दिया वो इन सीट पर पार्टियों के कब्जे को देखकर समझा जा सकता है।

बात करें इस सीट से विधायकों की तो 2002 और 2012 में उक्रांद प्रत्याशी प्रीतम सिंह पंवार ने यहां से चुनाव जीता। प्रीतम पंवार ने 2 बार कांग्रेस प्रत्याशी केदार सिंह रावत को हराया। भाजपा तीसरे नंबर पर रही। जबकि, 2007 में कांग्रेस प्रत्याशी केदार सिंह रावत चुनाव जीते, उक्रांद दूसरे नंबर पर रही तो भाजपा तीसरे नंबर पर रही। 2017 में भाजपा के केदार सिंह ने यहां जीत का झंडा गाड़ा।केदार सिंह रावत यमुनोत्री धाम के निकट नारायणपुरी गांव के रहने वाले हैं। वहीं प्रीतम सिंह पंवार टिहरी के थत्यूड़ ब्लॉक से हैं।

आपको बता कें कि यमुनोत्री विधानसभा के सभी ब्लॉक ओबीसी क्षेत्र में आते हैं। हालांकि यहां कई गांव अनुसूचित जाति बहुल हैं। सीट में नौगांव और चिन्यालीसौड़ के अलावा नगर पालिका चिन्यालीसौड़ और नगर पालिका बड़कोट शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here