देहरादून : STF की जांच में बड़ा खुलासा : 1.20 लाख रूपये का भवन और 35 हजार का कमरा किराए में लेकर करते थे ठगी, महीने की होती थी इतनी कमाई

देहरादून : एसटीएफ टीम द्वारा गुरुवार को पकड़े गये काॅल सेन्टर संचालकों के सम्बन्ध में पेसिफिक हिल्स अपार्टमेन्ट से महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई है।वही इस साल एसटीएफ उत्तराखण्ड द्वारा साईबर ठगों के 04 काॅल सेन्टरों भण्डाफोड़ किया गया है।एसटीएफ की टीम द्वारा पकड़े गये काॅल सेन्टरों से प्राप्त विदेशी लिंक व उनके खातों की डिटेल्स को एफबीआई से एसटीएफ साझा करेगी।

बता दें कि उत्तराखंड एसटीएफ ने गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय फर्जी काल सेंटर का पर्दाफाश किया है जिसमे चार लोगों को गिरप्तार किया गया है।देहरादून के आईटी पार्क से संचालित हो रहे इस फर्जी काल सेंटर पर आज एसटीएफ ने छापा मारकर कई जरूरी सामान और उपकरण बरामद किया है।एसटीएफ की टीम द्वारा आरोपियो के कनेक्शन के साथ ही जानकारी इकट्ठी की है।जिसके तहत गुरुवार को आईटी पार्क में एसटीएफ द्वारा साईबर ठगों के खिलाफ की गयी कार्यवाही में आज एसटीएफ टीम द्वारा पेसिफिक हिल्स राजपुर रोड में जाकर उनके अपार्टमेन्ट की छानबीन करने पर पकड़े गये काॅल सेन्टर के चारों संचालकों के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुयी है।

एसटीएफ टीम को पता चला है कि ये चारों व्यक्ति पिछले माह से पैसिफिक हिल्स के अपार्टमेन्ट में रह रहे थे, जिसका मासिक किराया करीब 35,000 रुपए है और काॅल सेन्टर में काम करने वाले अन्य लड़को के लिये इम्पिरियल हाईटस राजपुर रोड पर एक पूरा भवन किराये लिया गया था, जिसका मासिक किराया 1,20,000 रुपए है।साथ ही यह काॅल सेन्टर टूर और ट्रैवल्स के नाम से संचालित हो रहा था जिसकी आड़ में विदेशी नागरिकों से ठगी की जा रही थी।काॅल सेन्टर से प्राप्त साईबर ठगों की डायरी में प्रत्येक दिन में हर पेज पर काफी बड़ी धनराशि का लेन देन लिखा गया है।प्रत्येक दिन में 8 लाख से 15-16 लाख तक का लेन देन होना व देशी व विदेशी नागरिकों के नाम के सामने डायरी के प्रत्येक पेज पर अंकित पाए गए हैं।साथ ही डायरी से यह भी पता चला है कि इनके द्वारा एक-एक विदेशी नागरिक से ठगी के दौरान 03 हजार से 05 हजार डाॅलर धोखाधडी देकर प्राप्त किये गये हैं।*इस डायरी को भी विवेचना में शामिल किया गया है, जिससे कि इन नागरिकों की पहचान की जा सके।

एसटीएफ एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि एसटीएफ टीम द्वारा इस साल अभी तक 04 काॅल सेन्टरों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है जिनके द्वारा विदेशी नागरिको से धोखाधड़ी की जा रही थी, कार्यवाही के दौरान इस बात की महत्वपूर्ण जानकारी मिली है कि जो साईबर ठग यहां से अमेरीकी नागरिकों के साथ धोखाधड़ी कर रहे हैं उनके सम्बन्धित जगहो पर विदेशी साइबर ठगों या नागरिकों के साथ लिंक है, ऐसे में एसटीएफ द्वारा अब उन सभी जानकारियों को जिसमें कि विदेशी नागरिकों के बैंक डिटैल्स,अमेरिका में बनायी गयी कम्पनी के नाम व मोबाईल नम्बर को अमेरिका की एफबीआई के साथ साझा किया जा रहा है।जिससे सम्बन्धित के खिलाफ एफबीआई द्वारा कार्यवाही की जा सके।इसके लिये एफबीआई को उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा सारी जानकारियों के साथ एक पत्र प्रेषित उचित माध्यम से भेजा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here