उत्तराखंड में ऑनर किलिंग का सनसनीखेज मामला, युवक-युवती को मार डाला, किए टुकड़े-टुकड़े

रुड़की : हरिद्वार जिले के मोलना गांव से लापता युवक और नव विवाहित युवती की बेरहमी से हत्या कर दी गई। दोनों के शव को गन्ने के खेत में मिले हैं। क्षत-विक्षप्त शव बरामद हुए हैं। धारधार हथियार से दोनों के शरीर के कई अंगों को काटकर अलग दिया। जानकारी के अनुसार दोनों अलग समुदाय से थे। पुलिस मामले को ऑनर किलिंग मान रही है। मोलना गांव निवासी सवाना निकाह सात माह पूर्व यूपी के मुजफ्फरनगर के बसेड़ा गांव में हुआ था।

कुछ दिन पहले वह अपने मायके आयी थी। उसके बाद 24 जनवरी को वह लापता हो गयी। उसी दिन गांव का ही अंकित त्यागी भी लापता हो गया। दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग की बात सामने आयी है। दोनों पक्षों के लोगों ने अलग-अलग गुमशुदगी दर्ज कराई थी। युवती और युवक की तलाश उस समय तेज हुई जब बुधवार शाम गांव के पास खेल रहे कुछ बच्चों ने इंसान का पैर देखकर गांव वालों और पुलिस को जानकारी दी।

रात में ही पुलिस ने युवक व युवती के परिजनों से जानकारी जुटाई। सत्तार कटे पैर को अपनी पुत्री का बता रहा था। वहीं, गन्ने के खेत में एक चांदी की पायल भी बरामद हुई थी। पुलिस डीएनए टेस्ट कराने की तैयारी कर रही थी। गुरुवार सुबह थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार झबरेड़ा पुलिस टीम के साथ मोलना पहुंचे और फिर से गन्ने के खेतों में पुलिस टीम कटी टांग को लेकर जानकारी जुटाने लगी।

दोपहर करीब दो बजे एक गन्ने के खेत में पुलिस को क्षत-विक्षप्त हालत में युवक-युवती के शव आसपास पड़े मिले। शवों को बुरी तरह से काटा गया था। कुछ अंग अलग पड़े थे। जंगली जानवरों ने भी उन्हें नोंचा था। देहरादून से डॉग स्क्वायड की टीम भी बुलाई गई। एसपी देहात प्रविंद्र डोभाल का कहना है कि दोनों की हत्या की गई है। कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here