मुंबई के बाद यहां मिला XE वेरिएंट का दूसरा मरीज, जानिए कैसे बना ये वायरस

देश समेत दुनिया भर में कोरोना की दूसरी लहर का कहर थम गया था. सरकार द्वारा लोगों को गाइडलाइन में छूट दे दी गई थी लेकिन एक बार फिर से कोरोना का कहर डराने लगा है वो भी नए वैरिएंट के जरिए. बता दें कि चीन समेत दूसरे देशों में कोरोना के XE वेरिएंट ने कहर बरपाना शुरु कर दिया है। इतना ही नहीं भारत में इस वेरिएंट ने दस्तक दे दी है। पहला मरीज मुंबई में मिला तो वहीं अब दूसरे मरीज के मिलने से हड़कप फैल गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक्सई वैरिएंट का दूसरा मरीज गुजरात में मिला है। केंद्र सरकार द्वारा हर स्टेट में अलर्ट जारी कर दिया गया है. ये वेरिएंट ओमीक्रॉन के sub lineage हैं। देश में ये दूसरा मरीज मिला है। जानकारी मिली है कि ये वायरस तेजी से फैलता है।

आइये जानिए कैसे बना ये वायरस

डब्ल्यूएचओ के अनुसार कोविड-19 का XE वेरिएंट दो अलग-अलग वेरिएंट से मिलकर बना है. विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट के दो प्रकार हैं. पहला है ओमिक्रॉन बीए-1, जबकि दूसरा है बीए-2 है. इन्हीं दो वेरिएंट के मिलने से XE वेरिएंट बना है. शुरुआती जांच में पता चला है कि यह वेरिएंट अब तक के सभी वेरिएंट की तुलना में ज्यादा संक्रामक है. यह 10 गुना तेजी से फैलता है.

ये हैं XE वेरिएंट के लक्षण

क्योंकि ये वेरिएंट अभी नया है ऐसे में यह कितना घातक और कितनी तेजी से नुकसान पहुंचाता है इसे लेकर स्थिति साफ नहीं है. एक्सपर्ट पर इस पर स्टडी कर रहे हैं. हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि क्योंकि यह ओमिक्रॉन के 2 सबवेरिएंट से मिलकर बना है. ऐसे में इसके लक्षण ओमिक्रॉन से मिलते-जुलते हो सकते हैं. इस तरह अगर देखें तो बुखार, खांसी, सांस लेने में दिक्कत, बदन दर्द, सिरदर्द, गले में खराश और नाक बहना इस नए वेरिएंट के लक्षण हो सकते हैं. कुछ डॉक्टर इसके लक्षणों में ज्यादा थकान, चक्कर आना, धड़कन, सूंघने और स्वाद में कमी बढ़ने जैसी दिक्कतों को भी शामिल करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here