उत्तराखंड ब्रेकिंग : 15 दिनों में एक के बाद एक 35 लोगों की मौत से गांव में दहशत, शासन-प्रशासन बेखबर

रूड़की : कोरोना महामारी ने पूरे प्रदेश में अपना कहर बरपा रखा है। रोजाना सैकड़ों की संख्या में कोरोना से लोगों की मौते हो रही है। प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना संक्रामित के बढ़ते मामले को रोकने के लिए हर सम्भव प्रयास किये जाने का आदेश अधिकारियों को दिया है।

मंगलौर क्षेत्र के लिब्बरहेड़ी गांव में ग्रामीणों के अनुसार 15 दिनों में एक के बाद एक 35 लोगों की मौत ने हैरत में डाल दिया है। हालांकि ये सरकारी आँकड़ा नहीं है। गांव के साथ ही आसपास ग्रामीण क्षेत्रो में भी एक ही गांव में हुई लगातार मौतों से लोगों में दहशत फैल गई है। एक ही गांव में हुई 35 लोगों की मौत के बाद भी सरकारी अमला बेख़बर बना हुआ है। गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम तो दूर की बात कोई सरकारी विभाग का कर्मचारी ने भी गांव का कोई जायजा नहीं लिया। इतनी बड़ी लापरवाही ने सरकार की सभी दावों की पोल खोल दी है। ग्रामीणों की दहशत से गांव की गलियां भी सुनसान पड़ी हुई है। एक के बाद एक चिता जलाने वाले ग्रामीण स्वास्थ्य विभाग की मदद की राह तक रहे हैं। तो वहीं प्रशाशन के अधिकारी इन मौतों को नैचूरल मौत बताकर अपना पीछा छुड़ा रहे हैं।

गांव में लगातार हुई मौत के बाद कांग्रेस विधायक ने अपने निजी खर्च से ऑक्सीजन सिलेंडर व 2 ऑक्सिजन मशीन मुहैया कराई है, जिससे ऑक्सिजन की कमी से किसी अन्य ग्रामीण की मौत न हो सके। कांग्रेस विधायक काजी निजामुद्दीन ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा सरकार और प्रदेश की जनता के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया, सरकार की जारी सभी सुविधा को केवल जनता को गुमराह करने का षडयंत्र बताया। उन्होंने कहा कि कोविड से निपटने के लिए सरकार ने कुछ नहीं किया लोगों को अस्पताल में इलाज नहीं मिल रहा है लोग ऑक्जसीन की कमी से मर रहे हैं और ये सरकार केवल चुनाव की तैयारियों में जुटी हुई है। भाजपा के सांसद भी इस पर कोई ध्यान नही दे रहे हैं। केवल जनता को मरने के लिए छोड़ दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here