बड़ी खबर। विधानसभा सचिव छुट्टी पर भेजे गए, दून लौटते ही स्पीकर ने लिया एक्शन

RITU KHANDURIउत्तराखंड विधानसभा की अध्यक्ष ऋतु खंडूरी ने बड़ा बयान दिया है। ऋतु खंडूरी ने विधानसभा में हुई नियुक्तियों के बारे में चुप्पी तोड़ी है। ऋतु खंडूरी ने कहा है कि वो विधानसभा में हुई नियुक्तियों को लेकर हुए विवाद में किसी को निराश नहीं होने देंगी। इसके साथ ही ऋतु खंडूरी ने विधानसभा सचिव को जांच होने तक छुट्टी पर भेज दिया है।

आपको बता दें कि ऋतु खंडूरी पिछले काफी दिनों से विदेश दौरे पर थीं। इसके बाद वो दिल्ली लौटीं और पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में ही रुकी हुईं थीं। आज ही वो दिल्ली से देहरादून लौटीं हैं और उन्होंने मीडिया से बातचीत की है। ऋतु खंडूरी ने विधानसभा में हुई भर्तियों को लेकर बेहद सख्त तेवर दिखाया है। उन्होंने साफ किया है कि सभी कुछ नियमों की कसौटी पर कसा जाएगा और कहीं कुछ गलत मिला तो कार्रवाई तय है।

UKSSSC पेपर लीक में PRD कर्मचारी गिरफ्तार, पत्नी को कराया था चयनित

ऋतु खंडूरी ने कहा है कि विधानसभा में हुई नियुक्तियों के मसले पर किसी को परेशान होने की जरूरत नहीं हैं। इस पूरे प्रकरण की जांच की जाएगी। विधानसभा स्तर पर इसकी जांच होगी और किसी को परेशान होने की जरूरत नहीं है। इसके साथ ही ऋतु खंडूरी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए विधानसभा के सचिव मुकेश सिंघल को लंबी छुट्टी पर भेज दिया है। ऋतु खंडूरी ने कहा है कि जब तक इस मसले की जांच चल रही है तब तक मुकेश सिंघल छुट्टी पर ही रहेंगे।

आपको बता दें कि खुद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस मसले पर ऋतु खंडूरी को एक पत्र लिखा था और कार्रवाई की सलाह दी थी।

विधानसभा अध्यक्ष रितु खंडूरी ने कहा कि उत्तराखंड विधानसभा की गरिमा को बचाये रखने उनका कर्तव्य है। साथ ही अध्यक्ष ने कहा कि जांच के लिए एक्सपोर्ट समिति गठित किया जाएगा।

साथ ही यह कमेटी एक माह के भीतर जांच रिपोर्ट अध्यक्ष को सौपेगी। इसके बाद आगे की कार्यवाही पर निर्णय लिया जाएगा। एक्सपोर्ट कमेटी में दिलीप कुमार कोटिया को अध्यक्ष, सुरेंद्र सिंह रावत को सदस्य और आवेंद्र सिंह को सदस्य बनाया गया है।

दो चरणों मे जांच की जाएगी, जिसके तहत साल 2000 से 2011 तक और 2012 से 2022 तक दोनों ही कार्यकाल में हुई भर्तियों की जांच की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here