रामनगर हादसा। मानों मौत ने खींच लिया, पहले गाड़ी पीछे की फिर रपटे में डाल दी

ramnagar accident 1

 

नैनीताल जिले के रामनगर में शुक्रवार को ढेला नदी में कार बहने से हुए दर्दनाक हादसे में 9 लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में एक युवती को बचा लिया गया था। हादसे के चश्मदीदों के मुताबिक मानों काल ने ही इन लोगों को नदी की ओर खींच लिया। मरने वालों में छह महिलाएं शामिल हैं।

 

बताया जा रहा है कि कार में सवार पंजाब के सभी लोग कॉर्बेट स्मॉल टाउन होटल एंड रिजॉर्ट में ठहरे हुए थे। शुक्रवार की सुबह लगभग पांच बजे के आसपास सभी दस लोगों ने रिजार्ट से चेकआउट किया और पटियाला के लिए निकले। रिजार्ट से महल 400 मीटर की दूरी पर उनका सामना ढेला नदी के रपटे से हो गया। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि भारी बारिश के चलते नदी उफान पर थी। रपटे में पानी का प्रवाह बेहद तेज था। इसके चलते पर्यटकों ने अपनी कार रपटे से पहले ही रोक दी।

 

इसी बीच एक कार आई और वो रपटे को पार करते हुए निकल गई। इसे देखकर पंजाब के पर्यटकों ने भी गाड़ी को रपटे में उतारने का फैसला किया। हालांकि वहां कुछ और वाहन भी रुके हुए थे। स्थानीय लोग भी मौजूद थे। इन लोगों ने पंजाब के पर्यटकों को रोकने की कोशिश की लेकिन मानों पर्यटकों को उनकी मौत अपनी तरफ खींच रही थी। रुकने के बावजूद उन्होंने अपनी कार फिर आगे बढ़ा दी और अपनी गाड़ी रपटे में डाल दी।

बताया जा रहा है कि रपटे के बीच में पहुंचते ही गाड़ी पूरी तरह से चालक के काबू से बाहर हो गई और कुछ ही सेकेंडों में पूरी गाड़ी बहते हुए रपटे से नीचे पलट गई। गाड़ी तेजी से नीचे नदी में गिरी और उलटी हो गई। इस हादसे में नाजिया नाम की एक युवती गाड़ी का एक दरवाजा खुलने से बाहर की ओर छिटक गई लेकिन गाड़ी में सवाल अन्य दस लोग गाड़ी में ही दब गए। गाड़ी के उलटे हो जाने के चलते और पानी का तेज प्रवाह होने के चलते उन्हें संभलने तक का मौका नहीं मिला और सभी की मौके पर ही मौत हो गई।

 

इस हादसे की चर्चा इलाके में पूरे दिन होती रही। लोग हादसे में मरने वालों के प्रति संवेदना जताते रहे वहीं राज्य के बाहर से आने वाले पर्यटकों को ऐसे मौसम में गाड़ी चलाने के दौरान एहतियात बरतने की जरूरत भी समझाते रहे। लोगों की माने तो ढेला नदी का रपटा हमेशा ही बारिश के मौसम में परेशानी का सबब बनता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here