26 जनवरी को दिल्ली में प्रदर्शनकारी किसानों का बवाल, 313 हुई घायल पुलिसकर्मियों की संख्या, इतनी एफआईआर

कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले दो महीनों से धरने पर बैठे किसान 26 जनवरी के मौके पर ट्रैक्टर लेकर दिल्ली में घुसे। दिल्ली के कई इलाकों में हंगामा काटा और पुलिस से झड़प हुई। लाल किल आईटीओ में झंडा फहराया। बता दें कि दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शनकर रहे किसानों ने 26 जनवरी को दिल्ली की सड़कों पर शांतिपूर्ण तरीके से ट्रैक्टर परेड निकालने का वादा किया था लेकिन हुआ उसके उल्ट। कहा जा रहा है कि कुछ आसामाजिक तत्वों द्वारा ये किया गया। किसान की मौत हुई तो वहीं कई वर्दी धारी घायल हुए।

दिल्ली छावनी में तब्दील हुई। जगह-जगह आंसू गैस के गोलेछोड़ गए। पूरी दुनिया ने ये तस्वीर टीवी चैनलों और सोशल मीडिया पर देखा जो की झकझोर देने वाली है।बता दें कि 26 जनवरी को दिल्ली में प्रदर्शनकारी किसानों ने ऐसा बवाल काटा, जिसकी गूंज काफी समय तक सुनाई देगी। ट्रैक्टर परेड में घायल पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ कर 313 हो गई है। अब तक इस मामले में 22 एफआईआर दर्ज की हैं। माना जा रहा है कि अभी और एफआईआर दर्ज की जाएंगी। कल की हिंसा पर आज किसान यूनियन 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करने वाले हैं।

नॉर्थ 121,
आउटर 78
ईस्ट 34
द्वारका 32
वेस्ट 27
आउटर नॉर्ट 12
शाहदरा 5
साउथ 4

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here