अब बेझिझक आइए उत्तराखंड, सरकार खत्म करने जा रही है ये बाध्यता, जल्द जारी होगी SOP

देहरादून : उत्तराखंड में कोरोना का संक्रमण कम हो गया है जिसके बाद कई तरह की छूट सरकार ने प्रदेश की जनता को दी है लेकिन बाहरी राज्यों के लिए कई बंदिशें हैं। लेकिन कोरोना काल में जो बाहरी राज्यों से उत्तराखंड आने की सोच रहे हैं उनके लिए अच्छी खबर है। जी हां बता दें कि धामी सरकार दूसरे राज्य से उत्तराखंड आने वाले लोगों को बड़ी राहत देने जा रही है। जिसमे उत्तराखंड में प्रवेश के लिए आरटीपीसीआर रिपोर्ट लाना अनिवार्य नहीं होगा। सरकार कई तरह की बंदिशें खत्म करने जा रही है जिसकों लेकर एसओपी जल्द जारी होगी।

आरटीपीसीआर रिपोर्ट लाना नहीं होगा अनिवार्य

आपको बता दें कि इसके संकेत मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिए हैं। ये व्यवस्था जल्द ही 4 अगस्त के बाद से लागू होने की संभावना है। आपको बता दें कि अब तक बाहरी राज्यों से उत्तराखंड आने वालों के लिए आरटीपीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य की गई है। जो रिपोर्ट नहीं ला रहा उन्हें प्रवेश करने नहीं दिया जा रहा है। कोरोना के कम होते कहर को देखेत हुए कई हिमालई राज्यों में भी इस तरह की व्यवस्था को खत्म कर दिया गया है। इसको देखते हुए अब उत्तराखंड सरकार भी इस व्यवस्था को अपनाने जा रही है। जिसके बाद उत्तराखंड में भी आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट दिखाने की बाध्यता खत्म कर दी जाएगी।

वर्तमान में 4 अगस्त तक एसओपी है लागू 

आपको बता दें कि सीएम पुष्कर सिंह धामी ने एक निजी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि वर्तमान में 4 अगस्त तक एसओपी लागू है। 4 अगस्त के बाद सरकार बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को उत्तराखंड आने के लिए छूट देने पर सरकार विचार कर रही है। कहा कि अब उनके लिए बॉर्डर पर आरटी पीसीआर की रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य नहीं होगी। लेकिन जिन्होंने वैक्सीन लगा ली है और अगर कहीं पर चेकिंग होती है तो उनको वैक्सीनेशन की रिपोर्ट दिखानी ही होगी। स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की टीम को यह अधिकार होगा कि वह किसी भी समय बाहर से आए लोगों की स्वास्थ्य जांच कर सकें इसके लिए बाहरी राज्यों के लोगों के लिए भी सहयोग करना होगा। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि सरकार की मंशा किसी को परेशान करने की नहीं है। उन्होने कहा कि जल्द ही और रियायतें देने पर भी विचार करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here