उत्तराखंड : एक-दो नहीं, 100 लोगों को लगाया चूना, ठगे एक करोड़ 60 लाख

 

लक्सर : ठगी करने वाले कई तरह के बहाने बनाकर लोगों को अपने जाल में फंसा लेते हैं। एक बार जाल में फंसने के बाद खाता खाली कर देते हैं। ऐसा ही एक मामला लक्सर में सामने आया है। शेयर मार्केट में 40 दिन में रकम दोगुनी करने का लालच देकर हरियाणा के एक युवक ने ग्रामीणों से एक करोड़ 60 लाख से ज्यादा की रकम ठग डाली। युवक ने फर्जी कंपनी बनाकर ग्रामीणों को उसके शेयर खरीदवाए थे। ठगे गए लोगों में हरिद्वार के अलावा देहरादून के एक अधिवक्ता समेत 100 से ज्यादा लोग शामिल हैं।

लक्सर पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया है। सीओ बहादुर सिंह चौहान ने बताया कि 27 दिसंबर 2021 को खानपुर थाना क्षेत्र के डुमनपुरी गांव निवासी रामधन ने खानपुर पुलिस को तहरीर देकर बताया था कि रविंद्र कुमार नाम का युवक और उसके परिजन स्क्रोल इंडिया नाम से एक फर्जी कंपनी बनाई। आरोपी ने उसे और उसके साथियों को कंपनी के माध्यम से पैसे शेयर मार्केट में लगाकर दोगुने पैसे दिलवाने का लालच दिया। ऐसा कर उन्होंने एक करोड़ 60 लाख की धोखाधड़ी कर दी।

रामधन की शिकायत पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी। जांच में पता चला कि एमबीए पास कंपनी के मालिक रविंद्र कुमार ने 2019 में स्क्रोल इंडिया नाम से फर्जी कंपनी बनाई थी। वो कंपनी के माध्यम से हरिद्वार जिले के खानपुर, लक्सर, पथरी के अलावा देहरादून जिले के ऋषिकेश व अन्य ग्रामीण इलाकों में जाकर ग्रामीणों को स्क्रोल इंडिया कंपनी में धन निवेश करने को कहता था।

उसने 40 दिनों में धन दोगुना करने का झांसा देकर ग्रामीणों से पैसे ले लिए। आरोपित रविंद्र कुमार ने ग्रामीणों का भरोसा जीतने के लिए शुरू-शुरू में कुछ ग्रामीणों को वादे के अनुसार दोगुनी रकम वापस भी की, जिससे ग्रामीणों का उस पर और उसकी कंपनी पर विश्वास बढ़ गया। रविंद्र कुमार और उसके साथ जुड़े लोगों ने ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर ग्रामीणों को अधिक से अधिक पैसे निवेश करने के लिए उकसाया।

इस पर ग्रामीणों ने अपने साथ रिश्तेदारों के पैसे भी रविंद्र कुमार की कंपनी में लगा दिए। इसके बाद आरोपी एक करोड़ 60 लाख रुपये की धोखाधड़ी कर फरार हो गया। धोखाधड़ी के शिकार ग्रामीणों की संख्या 100 से अधिक है। ुलिस टीम ने होटल ओमांग, नमस्ते चौक पुलिस चौकी, सेक्टर 4, जिला करनाल हरियाणा में दबिश देकर रविंद्र को गिरफ्तार कर लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here