ऋषिकेश में हत्या का खुलासा : बेटी की शादी के लिए थे ब्याज में 6 लाख रुपये, चुका नहीं पाने पर उतारा मौत के घाट

ऋषिकेश : बड़ी खबर ऋषिकेश से है। बता दें कि रविवार को ऋषिकेश में हुई हत्या का खुलासा हुआ है। ऋषिकेश थाना क्षेत्र से गुमशुदा व्यक्ति की हत्या के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस हत्या का खुलासा एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने किया। बता दें कि एसएसपी देहरादून योगेंद्र रावत ने घटना का खुलासा करते हुए जानकारी दी कि गुमशुदा व्यक्ति का अध जला शव मंडावर थाना पुलिस को मिला था जिसकी सारी जानकारी पुलिस द्वारा वहां से ली गई है। एसएसपी ने जानकारी दी कि मामला ब्याज पर पैसे दिए जाने का है। ऋषिकेश में व्यापारी की हत्या की गई थी और अधजला शव मिला था। जानकारी दी कि 15 जनवरी को ऋषिकेश कोतवाली में राजकुमार गुप्ता निवासी मायाकुंड की गुमशुगदी की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। पुलिस को व्यापारी का अधजला शव मिला था और मामला हत्या का सामने आया। वहीं पुलिस ने आरोपियों की धर पकड़ के लिए टीमें गठित की। अपनी फील्डिंग बिछाई। जिस पर सफलता हासिल करते हुुए ऋषिकेश पुलिस ने बिजनौर निवासी तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। मुख्य आरोपी सुरेश चौधरी स्योहारा बिजनोर निवासी। सुरेश ने अपने दो साथियों के संघ मिलकर हत्या को अंजाम दिया था। मंडावर पुलिस ने 19 जनवरी को लावारिश में दाह संस्कार किया। पकड़े जाने पर सुरेश ने बताया कि उसने दो साल पहले राजकुमार गुप्ता से छह लाख रुपये भी उधार भी लिए थे जो उसने वापस नहीं दिए थे। व्यापारी ब्याज ब्याज देते देते थक गया था।

व्यापारी ने सुरेश को कहा था कि वो ब्याज देते देते परेशान हो गया हूं और पैसे नहीं दे पाऊंगा। व्यापारी ने बेटी की शादी के लिए 6 लाख रुपये लिए थे जो वो चुका नहीं पा रहा है। बस आक्रोश में आकर सुरेश ने अपने साथियों के साथ हत्या की साजिश रची और मौत के घाट उतार दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here