उत्तराखंड: मम्मी मेरे पापा कौन? शहर में लगे पोस्टरों से उठा सियासी तूफान

अल्मोड़ा: शहर में पोस्टरों ने हलचल मचा दी है। इन पोस्टरों के बाद से शहर में कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं। द्वाराहाट विधायक महेश नेगी मामले में पुलिस की जांच रिपोर्ट के बार विधायक पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला ने डीएनए टेस्ट कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने की धमकी दी है। लेकिन, उससे पहले द्वाराहाट विधानसभा में लगे पोस्टरों ले हलचल मचा दी है।

द्वाराहाट विधानसभा के अलग-अलग क्षेत्रों में पोस्टर लगे हुए हैं, जिन पर लिखा है कि मम्मी मेरे कौन ? इसमें एक मां और मां की गोद में बच्चा दिखाया गया है। साथ ही यह भी लिखा है कि ऐसे में कैसे बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा कैसे पूरा होगा ? महेश नेगी नेगी पर रेप के आरोप लगे हैं। महिला ने डीएनए टेस्ट के लिए अर्जी लगाई, लेकिन मामला कोर्ट में लंबित चल रहा है। इस बीच पुलिस ने अपने जांच रिपोर्ट भी सबमिट कर दी, जिसमें विधायक को क्लीन चिट दी गई है।

महिला ने पुलिस की जांच पर पहले भी सवाल खड़े किए थे। अब एक बार फिर गंभीर सवाल उठाए हैं। उनका आरोप है कि पुलिस ने विधायक के हिसाब से रिपोर्ट तैयार की है। महिला ने मामले में सुप्रीम कोर्ट का दरवाआ खटखटाने की बात भी कही है।

सवाल यह है कि आखिर क्षेत्र में पोस्टर किसने लगाए हैं। आखिर इसके पीछे कौन है। इन पर ना तो प्रींटिंग प्रेस का नाम लिखा है और ना छपवाने वाले के बारे में कोई जानकारी है। 2022 विधानसभा चुनाव से पहले विधायक महेश नेगी के लिए यह मामला गले की फांस साबित होने जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here