डीजीपी की मुहिम मिशन हौसला को बढ़ावा दे रही प्राइवेट संस्थान, फ्रंटलाइन वर्करों को की आयुष किट वितरित

 रूड़की: प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच जहां कोविड कर्फ्यू लागू किया गया है तो वहीं पुलिस महकमे आलाधिकारी डीजीपी अशोक कुमार की ओर मिशन हौसला के तहत जरूरतमंदों की मदद के लिए अभियान चलाया जा रहा है। प्रदेशभर की पुलिस मिशन हौसला के तहत गरीब जरूरतमंद लोगों को राशन, दवाइयां, कपड़े आदि जरूरी की चीजें वितरित कर रही है। वहीं डीजीपी की इस मुहिम को प्राइवेट संस्थान भी भरपूर सहयोग कर रहे है। अभियान के तहत भगवानपुर थाने में आयुर्वेदिक कम्पनी मुल्तानी द्वारा फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में कार्य करने वालों को आयुष किट वितरित की गई। जिसमें पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी सहित चिकित्सक आदि फ्रंटलाइन वर्कर मौजूद रहे।

आपको बता दे प्रदेश में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत आज भगवानपुर थाने में एसपी देहात परमेंद्र सिंह डोबाल व सीओ मंगलौर पंकज गैरोला के नेतृत्व में आयुर्वेदिक कंपनी मुल्तानी के सहयोग से कोरोना के रूप में कार्य कर रहे फ्रंटलाइन वर्करों को आयुष किट वितरित की गई है। इस मौके पर एसपी देहात प्रमेंद्र सिंह डोबाल ने जानकारी देते हुए बताया कि जिस प्रकार से डीजीपी महोदय के द्वारा एक मुहीम मिशन हौसला के नाम से चलाई गई है। उसी के अंतर्गत प्राइवेट संस्थान भी लोगों की सहायता कर रहे है। इसी क्रम में आज जितने भी फ्रंटलाइन वर्कर हैं जिनमें स्वास्थ्यकर्मी, पुलिसकर्मी चिकित्साकर्मी व मीडियाकर्मी क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं, उन सभी को आयुष किट वितरित की गई है। उन्होंने कहा कि यह एक लंबी लड़ाई है और इसके लिए इम्यूनिटी का होना बहुत जरूरी है। तो इसीलिए यह प्रयास किया गया है, और आगे भी इस तरह के प्रयास लगातार जारी रहेंगे। वहीं पर उपस्थित आयुर्वेदिक कंपनी मुल्तानी के मैनेजिंग डायरेक्टर आशुतोष शुक्ला ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं फ्रंटलाइन वर्कर बधाई के पात्र हैं। और उनकी इम्यूनिटी का विशेष तौर पर ख्याल रखते हुए भगवानपुर थाना अध्यक्ष के मार्गदर्शन में आज उनके द्वारा 100 आयुष किटों का वितरण किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here