Sunday, April 18, 2021
Home highlight देहरादून में चमत्कार : रुक गई थी दिल की धड़कन, फिर ऐसे...

देहरादून में चमत्कार : रुक गई थी दिल की धड़कन, फिर ऐसे मिला जीवनदान

देहरादून : डोईवाला के अस्पताल में एक चमत्कार देखने को मिला जो की चर्चाओं का विषय बना हुआ है। ये ऐसा चमत्कार था जिससे ये सही साबित हुआ कि डॉक्टर भगवान का रुप होते हैं। जी हां मामला डोईवाला स्थित हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट का है जहां हृदय रोग विभाग के चिकित्सकों ने एंजियोप्लास्टी कर एक व्यक्ति को नया जीवन दिया। मरीज के परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई। सभी ने डॉक्टरों का धन्यवाद अदा किया।

हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट के कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. चंद्र मोहन बेलवाल ने जानकारी दी कि डोईवाला निवासी 40 वर्षीय गौतम को हार्ट अटैक आया था जिसस उनकी हृदय गति रुक गई थी। इस हालत में उनके परिजन उन्हें हिमालयन अस्पताल के इमरजेंसी ब्लॉक में लाए। मरीज की हालत देखते हुए उसे कॉर्डियोलॉजी में रेफर किया गया। ईसीजी में भी हृदय गति पूरी तरह से रुकी नजर आई। कार्डियो पल्मोनरी रिससिटेशन यानी सीपीआर देते हुए मरीज को वेंटिलेटर पर रखा। मरीज का बीपी काफी गिर गया था, जिसको बढ़ाने के लिए दवाईयां दी गई। बताया कि इमरजेंसी एंजियोग्राफी की जिसमें पता लगा कि मरीज की मुख्य रक्त वाहिका पूर्ण से ब्लॉक थी। जरूरी स्वास्थ्य जांचों के बाद एंजियोप्लास्टी का फैसला लिया। रोगी के परिजनों की सहमति एनिस्थिसिया विभाग के सहयोग से हाई रिस्क एंजियोप्लास्टी की गई। विभागाध्यक्ष डॉ. अनुराग रावत के नेतृत्व में डॉ. कुनाल गुरुरानी व डॉ. चंद्र मोहन बेलवाल सहित कार्डियो टीम की मेहनत रंग लाई और मरीज की जान बच गई।

करीब 6 दिन सीसीयू में रखने के बाद मरीज की तबियत में काफी सुधार हुआ। अब उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. एसएल जेठानी ने हृदय रोग विभाग की इस कामयाबी के लिए बधाई दी और रोगी के स्वास्थ्य जीवन की कामना की। क्रिटिकल केयर से डॉ. सुशांत, डॉ. इमलीवती सहित सीसीयू में नर्सिंग से मनीष, अर्जुन, पूजा व कैथ लैब से देव सिंह, विरेंद्र आदि ने सहयोग दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here