चम्पावत से तराई को जोड़ने वाला करोड़ों की लागत से बना पुल क्षतिग्रस्त, हो सकता है बड़ा हादसा

टनकपुर – चम्पावत के बस्तियां क्षेत्र में किरोड़ा नाले पर बना पुल जो चम्पावत राष्ट्रीय राजमार्ग को तराई के टनकपुर क्षेत्र से जोड़ता है. लापरवाही व अव्यवस्था के चलते बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। आने जाने वाले भारी वाहन पुल के क्षतिग्रस्त हुए स्थान के पास आते ही डगमगा जाते जाते हैं। पूर्व में हुए सड़क निर्माण कार्यो के चलते पुल पर हुए बुरे प्रभावों का असर यह है कि पुल से सीमेंट के टुकड़े टूट कर हट गए हैं और अंदर की सरिया नजर आने लग गई है।

पुल के नीचे की तरफ से बड़े-बड़े सीमेंट के टुकड़े टूट कर गिर रहे हैं जितनी बार वाहन गुजरते हैं उतनी बार सीमेंट कंक्रीट टूट कर नीचे गिरते रहते हैं। बस्तिया के ग्रामप्रधान राम सिंह का कहना है कि यह पुल हमारी लाइफ लाइन की तरह है। जिससे हम तराई क्षेत्र टनकपुर से जुड़े रहते हैं।

ग्रामीणों के अनुसार यह पुल एनएच का काम करने वाले लोगों की लापरवाहियों के कारण ही यह क्षतिग्रस्त हुआ है। अगर यह टूट जाएगा तो ग्रामीणों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ेगा। वहीं इस बारे में टनकपुर उपजिलाधिकारी हिमांशु कफलतिया ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि इस पुल के सम्बंध में वितरित सर्वे कर रिपोर्ट शासन को भेज दी गई है। साथ ही एनएच को भी जल्द ही पुल की मरम्मत करने के निर्देश जारी कर दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here