लक्सर ब्रेकिंग : कल से सील हो जाएंगे बॉर्डर, जबरदस्ती घुसे तो कर दिया जाएगा क्वारंटीन

उत्तराखंड के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी गई है। बावजूद पुलिस और प्रशासन को अभी भी यूपी की तरफ से छिप छिपाकर कांवड़ियों के आने की संभावना लग रही है। लिहाजा पुलिस सीमा पार से आने वाले हर वाहन की सघन तलाशी के बाद ही प्रवेश की इजाजत दे रही है। उत्तराखंड में नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कुर्सी पर बैठते ही कोरोना के खतरे को देखते हुए कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी थी।

जबकि यूपी सरकार कांवड़ यात्रा चलाने के पक्ष में थी। इसे देखते हुए यूपी से सटी हरिद्वार जिले की सीमा पर उत्तराखंड पुलिस कांवड़ियों को रोकने के लिए सघन निगरानी कर रही थी। अब सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद यूपी में भी कांवड़ यात्रा प्रतिबंधित कर दी गई है। लेकिन पुलिस और प्रशासन को अभी भी आशंका है कि रोक के बावजूद कुछ कांवड़ यात्री चोरी छिपे सीमा पार करके हरिद्वार आ सकते हैं। इस आशंका के मद्देनजर सीमा पर पुलिस अभी भी सख्त निगरानी कर रही है। लक्सर तहसील की सीमा बालावाली में यूपी के जिला बिजनौर से और बढ़ीवाला में मुजफ्फरनर से सटी हई हे।दोनों ही जगह बॉर्डर पर 24 घंटे खानपुर पुलिस व पीएसी की टीम तैनात की गई है।

यूपी से लगे तीनों बॉर्डर पर स्थानीय पुलिस के साथ पीएसी और ट्रैफिक पुलिस की तैनाती की गई है। आज से ही पुलिस की चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है। कल सुबह यानी की गुरुवार को तीनों बॉर्डरो को सील कर दिया जाएगा औऱ बाहरी राज्यों से आने वाले कावड़ियों पर नजर रखी जाएगी। जरूरी काम से आने वाले बाहरी राज्यों के लोगों को उत्तराखंड के बॉर्डरो पर आरटीपीसीआर की 72 घंटे पहले की नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है। नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने के बाद ही बारही राज्य के लोग उत्तराखंड में प्रवेश कर सकेंगे।
बता दें कि हरिद्वार में हरकी पैड़ी को चारों तरफ से बैरीकैडिंग लगाकर सील की गई है। सीसीटीवी कैमरों की मदद से भी पुलिस पैनी नजर रखेगी। उत्तराखंड बॉर्डर प्रवेश करने वाले कांवड़ियों पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज होगा जिसके बाद उन्हें 14 दिन के क्वारंटीन किया जाएगा।  यूपी से सटे सभी बॉर्डर पर पुलिस का सघन चेकिंग अभियान आज से शुरु हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here