हरक की इच्छा से कई भाजपा नेता परेशान, पूर्व MLA बोलीं- पैराशूट प्रत्याशी नहीं बर्दास्त, क्या करेंगी बगावत?

देहरादून : प्रत्याशियों के नाम के ऐलान से पहले टिकट को लेकर पार्टी में घमासान मचा हुआ है। हरक सिंह रावत की बातें और बयान समझ से परे हैं. कभी वो कहते हैं कि वो आगे चुनाव नहीं लड़ेंगे तो कभी वो 4 सीटों से चुनाव लड़ने की इच्छा जताते हैं। बीते दिन हरक सिंह रावत ने चार सीटों से चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की थी। हरक ने यमकेश्वर, केदारनाथ, डोईवाला और लैंसडाउन से चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी। वहीं केदारनाथ विधानसभा सीट पर हरक सिंह रावत की नजर से कई भाजपा नेता परेशान हैं।

बता दें कि केदारनाथ विधानसभा सीट पर दावेदारी कर रहे नेता हरक की इच्छा से खासा परेशान हैं। हरक सिंह रावत ने कुछ दिन पहले प्रदेश की कई विधानसभा सीट पर दावेदारी को लेकर बयान दिया था जिससे कई नेताओं में हलचल मच गई थी। हरक की इस नजर पर केदारनाथ की पूर्व विधायक शैला रानी रावत ने बयान देते हुए कहा कि पैराशूट प्रत्याशी को बर्दास्त नहीं किया जाएगा. कहा कि पार्टी ने नहीं दिया टिकट तो फिर वो फैसला लेंगी।

शैला रानी रावत ने कहा कि पार्टी से उन्हें टिकट मिलने की पूरी उम्मीद है। पार्टी उनके साथ न्याय करेगी। आशा नौटियाल की दावेदारी को लेकर भी शैला रानी रावत ने बयान देते हुए कहा कि 2017 के विधानसभा चुनाव में आशा नौटियाल ने पार्टी से बगावत की थी। शैला के इस बयान से हड़कंप मच गया है। क्या शैला रावत को टिकट ना मिलने पर वो कांग्रेस का दामन थामेंगी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here