लक्सर : किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए किसान मोर्चा ने झोंकी ताकत

लक्सर : कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में 9 महीने से धरना दे रहे संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत ऐलान किया है। महापंचायत की सफलता को लेकर लक्सर में किसान संगठनों ने पूरी ताकत झोंक दी है। भाकियू(अंबावता) की टीमें लक्सर क्षेत्र के गांव-गांव में जाकर किसानों को संबोधित कर रही है।

5 सितंबर को होनी है मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत

कृषि कानूनों को रद्द कर एमएसपी पर कानून बनाने की मांग को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में कई किसान संगठन करीब 9 महीने से दिल्ली में आंदोलन पर है। आंदोलन की अगली रणनीति तैयार करने के लिए 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत होनी है। महापंचायत में ज्यादा से ज्यादा किसानों को जोड़ने के लिए उत्तराखंड किसान मोर्चा व भाकियू (अंबावता) की टीमें लक्सर क्षेत्र के गांव गांव जाकर किसानों को जागरूक करने में लगी हैं।

उत्तराखंड किसान मोर्चा के अध्यक्ष ने दी चेतावनी

उत्तराखंड किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी गुलशन रोड़ ने HNN टीम से कहा 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में महापंचायत में भारत के अलग-अलग राज्यों से कई लाखों की संख्या में किसान पहुंचेंगे आगे की रणनीति बनाई जाएगी और किसान मोर्चा सरकार को घेरने का काम करेगी। अगर सरकार तीन कृषि काले कानून वापस नहीं लेती तो आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को अपनी करारी हार लेकर इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

वहीं जिला अध्यक्ष उत्तराखंड किसान मोर्चा के चौधरी महकर सिंह ने बताया लक्सर क्षेत्र के 32 से अधिक गांव मैं डोर टू डोर जाकर किसानों को संबोधित किया गया है।और किसानों से अधिक से अधिक संख्या में महापंचायत में शामिल होने का आग्रह किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here