नदी के उफान पर आने से लोडर फंसा, ऋषिकेश में चेतावनी रेखा से 90 सेंटीमीटर नीचे बह रही गंगा

तीर्थ नगरी ऋषिकेश समेत पूरे उत्तराखंड में बारिश का कहर जारी है। ऊपर से लाइट ने ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को परेशान कर रखा है। एक तो बारिश और ऊपर से लाइट का आना जाना परेशानी बढ़ा रहा है। बात करें देहरादून की तो देहरादून में सड़कें तालाब में तब्दील हो गई हैं। सड़कों में पानी भर गया है। देहरादून की सड़कों का वैसे ही बुरा हाल है। ऊपर से कई इलाकों में बिजली गुल से लोग परेशान हैं। लोग अंधेरे में काम करने पर मजबूर है। वहीं बता दें कि यमकेश्वर प्रखंड के नाले और गधेरों में उफान आ गया है। इससे ऋषिकेश और चीला के मध्य बहने वाली बीन नदी में भी उफान आ गई है। यहां वाहनों का आवागमन रोक दिया गया है। यमकेश्वर प्रखंड के डांडा मंडल का ऋषिकेश से सड़क संपर्क टूट गया है। ऋषिकेश में गंगा चेतावनी रेखा से 90 सेंटीमीटर नीचे बह रही है।

क्षेत्र में हो रही बारिश के कारण सभी बरसाती नालों और गधेरों में अचानक बढ़ गया है। यमकेश्वर प्रखंड में निरंतर हो रही बारिश के कारण यहां के नालों में उफान आ गया है, जिससे बीन नदी में भी अचानक पानी बढ़ गया राजाजी टाइगर रिजर्व की गोहरी रेंज के अंतर्गत आने वाली इस नदी से हरिद्वार और ऋषिकेश के मध्य वाहनों का आवागमन होता है।वन क्षेत्राधिकारी धीर सिंह के मुताबिक नदी में उफान आने से इसके दोनों तरफ वन कर्मियों की तैनाती करते हुए वाहनों के आवागमन को रोक दिया गया है। फिलहाल ऋषिकेश से यमकेश्वर प्रखंड जाने वाले वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here