उत्तराखंड के इस जिले में बनेगा भारत का पहला एस्ट्रोपार्क कम साइंस सिटी, जानिए किसका होगा अध्ययन

nanital dm
हल्द्वानी-शासन से एस्ट्रोपार्क कम साइंस सिटी बनाने की अनुमति स्वीकृति होने पर बुधवार को जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने एस्ट्रोपार्क कम साइंस सिटी के लिए भूमि चयन के लिए स्थलीय निरीक्षण किया।

जिलाधिकारी गर्ब्याल, प्रभागीय वनाधिकारी वैभव कुमार एवं निदेशक एरीज प्रोफेसर दीपांकर बनर्जी द्वारा एस्ट्रोपार्क कम साइंस सिटी के लिए तीन पानी नियर ओपन यूनिवर्सिटी के समीप भूमि का स्थलीय निरीक्षण किया। जिलाधिकारी एवं उनकी टीम द्वारा तीन पानी स्थित सभी स्थलों का निरीक्षण किया। निरीक्षण उपरान्त तीनपानी ओपन यूनिवर्सिटी के समीप भूमि चिन्हित की गई।

जिलाधिकारी ने कहा कि शासन द्वारा एस्ट्रोपार्क कम साइंस सिटी बनाने की सैद्धातिंक स्वीकृति प्रदान कर दी है। यह भारत का पहला एस्ट्रोपार्क कम साइंस सिटी है जिसे हल्द्वानी में विकसित किया जाएगा। इस पार्क में नक्षत्र और नवग्रह को जुड़े अध्ययन किए जा सकेंगे । पार्क के लिए ओपन यूनिवर्सिटी के समीप भूमि का चयन कर प्रस्तावित किया गया है।
उन्होंने कहा कि आपेन यूनिवर्सिटी के समीप एस्ट्रोपार्क बनने से क्षेत्र की अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त होगी वही देश विदेश के एरीज में शिक्षा प्राप्त कर रहे शिक्षार्थियों के शिक्षा के विकास के साथ ही क्षेत्र के पर्यटन को बढावा मिलेगा।

उन्होंने कहा कि एस्ट्रोपार्क में साइंस लैब के साथ ही शिक्षार्थियों के लिए हास्टिल, डेटा सेंटर एवं साइंस का पार्क भी निर्माण किया जायेगा। उन्होंने कहा एशिया की सबसे बडी देवस्थल एरीज दूरबीन ओखलकांडा नैनीताल से एस्ट्रोपार्क की कनक्टीविटी दी जायेगी। निरीक्षण दौरान उपजिलाधिकारी मनीष कुमार, एसडीओ शशिदेव के साथ ही सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here