देहरादून IMA से मायूसी भरी खबर, इस बार भी अफसर बेटे के कंधे पर सितारे नहीं सजा पाएंगे परिजन

देहरादून- लगभग हर मां बाप का सपना होता है कि उसका बेटा सेना में अफसर बने और उनको भी उनके बेटे के कंधे पर सितारे सजाने का मौका मिले लेकिन एक बार फिर आईएमए से मायूसी भरी खबर है। जी हां बता दें कि इस बार भी परिजन अपने बेटे के कंधे पर सितारे नहीं समझा पाएंगे। वह भी कोरोना के कारण।

आपको बता दें टि भारतीय सैन्य अकादमी में पासिंग आउट परेड आगामी 12 जून को होगी। कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार भी परेड में सावधानियां बरती जा रही। इसी के साथ कई तरह की पाबंदियां भी होंगी।  बता देध कि पिछली बार की तरह इस बार भी पासआउट हो रहे जेंटलमैन कैडेट्स के स्वजन पीओपी में शामिल नहीं हो सकेंगे। खबर है कि सेना के भी चुनिंदा उच्चाधिकारी परेड में शिरकत करेंगे और वहीं अफसरों के कंधे पर सितारे सजाएंगे।

बता दें कि लगातार ये दूसरी बार है जब कोरोना के कहर के बीच में पासिंग आउट परेड होने जा री है और एक बार फिर कैडेटों के परिजन पीओपी में शामिल नहीं हो सकेंगे। इससे पहले पिछले वर्ष जून में हुई पासिंग आउट परेड में भी स्वजन शामिल नहीं हुए थे।

सैन्य अधिकारियों और उनके परिवार के सदस्यों ने पास आउट हो रहे कैडेटों के कंधों पर सितारे सजाए थे। चढ़ाए थे। हालांकि, इसके बाद दिसंबर 2020 में कोरोना संक्रमण कम होने से स्वजन को पीओपी में शामिल होने दिया गया था, लेकिन इस बार देश-प्रदेश में जिस तरह संक्रमण की दूसरी लहर अपना कहर बरपा रही है, उसको मद्देनजर रखते हुए पासिंग आउट परेड के दौरान बेहद सावधानी बरती जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here