उत्तराखंड : दूल्हे को बुलेट, मां-बाप को कार, पूरी नहीं हुई डिमांड, तो तोड़ी दी सगाई

देहरादून: दहेज लेना और देना समाज के लिए कोढ़ की तरह है। काफी हद तक दहेज प्रथा कम भी हो चुकी है। लेकिन, अब भी कई ऐसे लोभी हैं, जो अब भी दहेज मांगते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। राजधानी देहरादून में दूल्हे ने खुद के लिए बुलेट और मां-बाप को कार की डिमांड की। इतना ही नहीं, कई और मांगें भी लड़की पक्ष के सामने रखी। जब दहेज की मांग पूरी नहीं हो पाई तो लड़के वालों ने सगाई तोड़ दी।

शहर कोतवाली पुलिस ने मंगेतर और उसके परिजनों के खिलाफ दहेज और धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। महिला ने शिकायत दर्ज करवाई कि 22 अगस्त को रजा कालोनी, बिजनौर निवासी कमरजहां अपने बेटे शादाब के लिए उनकी लड़की को देखने के लिए आई थीं। लड़की पसंद आने के बाद उन्होंने सगाई के लिए बुलाया। 29 अगस्त को लड़की के माता-पिता रिश्तेदारों के साथ सगाई के लिए बिजनौर गए।

इस दौरान उन्होंने क्षमता के अनुसार खर्च भी किया और दोनों परिवारों की सहमति से सगाई हो गई। सगाई के बाद मंगेतर शादाब व उसके पिता महबूब, माता कमरजहां, भाई नौशाद, सलमान और बहन शाजिया ने दहेज के लिए अलग-अलग डिमांड करनी शुरू कर दी। शादाब ने अपने लिए बुलेट और शादाब के माता-पिता ने कार की मांग की।

शादाब की बहन ने सोने की अंगूठी मांगी। लड़की के पिता ने कहा कि वह इतना सामान नहीं दे सकते, तो लड़के वालों ने कहा कि सामान नहीं दे सकते तो लड़की के लिए कोई और रिश्ता देख लो। आरोपितों ने उनके साथ बदसलूकी की और जान से मारने की धमकी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here